घर की गार्डनिंग और घर को एक ख़ास लुक देने के लिये हैंगिंग बास्केट्स को वरांडे या बालकनी में एक सीरीज में भी लगा सकती है या फिर ऊपर नीचे भी. हैंगिंग बास्केट्स जगह की बचत  भी करती है और  देखने में भी बेहद खूबसूरत नजर आती हैं. 

पौधे कैसे लगाएं

मॉस ग्रास और कोको पीट ग्रास को दस मिनट पानी में भिगो लें, यह फूल जाएगी, इसके बाद इन्हें बास्केट में बिछा दें. अब थोडी सी खाद युक्त मिट्टी की परत लगाने के बाद पौधों के  बीज लगाएं. खाद के तौर पर गोबर की खाद, बोनमील और नीम की खली आदि समय-समय पर डालती रहें.

सुंदर पौधे

बास्केट गार्डनिंग करना कोई मुश्किल काम नहीं है. सुंदर से पौधों का चयन कर के आप अपने घर को एक नया रूप दे सकती हैं. आप पौधों के रूप में फर्न, पिट्यूनिया, थाइम, पैनजी आदि का चुनाव कर सकती हैं.

धूप से बचाएं

हैंगिंग बास्केट ऐसी जगह न लगाएं जहां सूरज की तेज किरणें और गर्म या सर्द हवाएं सीधी आती हों. इन बास्केट्स के लिए सबसे उचित जगह होगी सेमी-शेल्टर्ड एरिया. यह आपकी बालकनी के पास वाली दीवार हो सकती है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. बापू को चतुर बनिया कहने पर अमित शाह के खिलाफ राजनैतिक विवाद शुरु

2. अतीत के यादों में दफन हो जायेगी धनबाद-चंद्रपुरा रेललाईन, ट्रेनों का परिचालन होगा बंद

3. बढ़ती जनसंख्या से परेशान पाकिस्तान, तीन पुरूषों के 96 बच्चे

4. ममता की चेतावनी, कानून का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई करेगी सरकार

5. तमिलनाडु में गर्भवती महिलाओं का रजिस्‍ट्रेशन होगा अनिवार्य

6. कर्नाटक में कांग्रेस सरकार ने बनाया किसान का मजाक, दिया 1 रुपये मुआवजा

7. कुमार विश्वास बोले - जो धान की कीमत दे न सका, वो जान की कीमत क्या जाने

8. दीपिका पादुकोण की जुड़वा तो नहीं है ये साउथ एक्ट्रेस

9. मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज को राज्यभंग का योग, शांति होगी

10. जानिये स्वर्ण मंदिर के अनसुने तथ्य

11. भगवान ऋण मुक्तेश्वर के पूजन से ही मनुष्य ॠणों से मुक्त हो जाता, देखें वीडियो

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।