हनुमान जी को कलयुग का जीवंत देवता माना गया है. धर्म ग्रंथों के अनुसार हनुमान जी एकमात्र ऐसे देवता हैं जो सशरीर इस पृथ्वी पर विचरण करते हैं और अपने भक्तों की हर मनोकामना पूरी करते हैं. हनुमान जी की खास पूजा मंगलवार के दिन की जाती है. हनुमान जी को संकट मोचन कहा गया है. हनुमान जी का नाम स्मरण करने मात्र से ही भक्तो के सारे संकट दूर हो जाते हैं. जो भक्त मंगलवार को हनुमान जी की पूजा करते हैं और जो पनियमित रूप से मंगलवार के दिन मंदिर जाते हैं तो आपको ये बातें जरूर जाननी चाहिए..

* मंगलवार को मंदिर जाएं तो हनुमान जी के लिए भेंट स्वरूप देसी घी का रोट, केले, गुड़, लाल रंग के फूल, जनेऊ, सुपारी आदि लेकर जाएं. ऐसा करने वाले भक्त को सभी सुख मिलते हैं और धन की प्राप्ति होती है. किसी भी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होती और उनकी किस्मत का सितारा चमक जाता है.

* हनुमान जी की कृपा पाने और सभी परेशानियों से छुटकारा पाने का अचूक उपाय है, मंगलवार के दिन हनुमान मंदिर में बैठकर हनुमान चालीसा और बजरंग बाण का पाठ.

* शांति चाहिए तो हनुमान मंदिर में आसन बिछाकर सुंदरकांड पढ़िए. सुंदरकांड श्रीरामचरितमानस का चौथा अध्याय है. यह श्रीरामचरितमानस का सबसे अधिक पढ़ा जाने वाला भाग है क्योंकि इसमें हनुमान जी के बल, बुद्धि, पराक्रम व शौर्य का वर्णन किया गया है. सुंदरकांड के पढऩे व सुनने से मन में एक अद्भुत ऊर्जा का संचार होता है. सुंदरकांड के हर दोहा, चौपाई व शब्द में गहन अध्यात्म छुपा है, जिससे मनुष्य जीवन की हर समस्या का सामना कर सकता है. सुंदरकांड के पाठ से बहुत ही जल्द हनुमान जी प्रसन्न हो जाएंगे और आपको मालामाल कर देंगे.

* जिस प्रकार विवाहित स्त्रियां अपने पति या स्वामी की लंबी उम्र के लिए मांग में सिंदूर लगाती हैं, ठीक उसी प्रकार हनुमान जी भी अपने स्वामी श्री राम के लिए पूरे शरीर पर सिंदूर लगाते हैं. इसलिए मंगलवार को हनुमान जी के मंदिर में जाकर उन्हें सिंदूर व चमेली का तेल अर्पित करें और अपनी मनोकामना कहें. जो भी व्यक्ति हनुमान जी को सिंदूर अर्पित करता है उससे हनुमान जी प्रसन्न होते हैं और भक्त की सभी इच्छाएं पूरी करते हैं.

* अपनी श्रद्धा के अनुसार हनुमान मंदिर में बजरंग बली की प्रतिमा पर चोला चढ़वाएं. ऐसा करने पर हनुमान जी अति प्रसन्न होते हैं और साधक की हर मनोकामना पूरी करते हैं.

* लाल अथवा केसरी रंग के कपड़े पहनकर मंदिर जाएं.

* शाम 5 बजे के बाद मंदिर जाएं.

* हनुमान मंदिर से वापिस आने से पहले हनुमान जी के चरणों का सिंदूर मस्तक पर लगाएं.

* हनुमान मंदिर के बाहर बैठे जरूरतमंदो को सामर्थ्य के अनुसार कुछ दान-दक्षिणा जरूर दें.

कुंडली में दोष है? टेंशन नहीं लें और परामर्श के लिए संपर्क करें

-पं.प्रदीप मिश्रा शास्त्री

मोबाइल: 94251-61406

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. नोटबंदी और जीएसटी देश के लिए 2 बड़े झटके, अर्थव्यवस्था को तबाह कर दिया : राहुल

2. श्रेयन और अंजलि बने ज़ी टीवी 'सारेगामापा लिटिल चैंप्स 2017' के विजेता

3. अनुच्छेद-35A पर सुनवाई 8 हफ्ते के लिए टली, सरकार ने कहा-नियुक्त किया वार्ताकार

4. जेएनयू व डीयू के कई प्रोफेसर यौन शोषण के आरोपी, फेसबुक पर जारी की सूची

5. सरकार ने करदाताओं को बड़ी राहत, GST रिटर्न दाखिल करने की अवधि बढ़ी

6. महिला हॉकी : एशिया कप में भारत ने चीन को दी मात

7. प्रदीप द्विवेदी: मुकद्दर का सिकंदर बन रहे हैं कांग्रेस नेता राहुल गांधी!

8. राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप : मनोज कुमार और शिव थापा फाइनल में पहुंचे

9. चीन का नया प्लानः ब्रह्मपुत्र के पानी को मोड़ने के लिए बनाएगा हजारों किमी की सुरंग

10. राजस्थान : समाप्त हुआ भूमि समाधि लेने वाले किसानों का आंदोलन

11. अशोक वृक्ष को घर के उत्तर में लगाकर रोज करें जल अर्पित, पड़ेगा चमत्कारिक प्रभाव

12. महादशा से भविष्य में कब क्या होगा , इसका अनुमान भी आप भी लगा पाएंगे

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।