नई दिल्ली. तमिलनाडु की एआईएडीएमके सरकार पर फिलहाल संकट के बादल हटते नजर आ रहे हैं. 18 विधायकों की सदस्यता रद्द किए जाने के मामले में मद्रास हाईकोर्ट ने कहा है कि इन विधायकों की सदस्यता रद्द ही रहेगी. हालांकि इस मामले में अब फैसला कोर्ट की 3 सदस्यीय बैंच करेगी. इस मामले में दोनों जजों की राय अलग अलग रही. दरअसल पिछले साल तमिलनाडु में एक राजनीतिक घटनाक्रम में एआईएडीएमके के 18 विधायकों ने विद्रोह कर दिया था. ये शशिकला के भतीजे टी दिनाकरण गुट के थे.

इन विधायकों को स्पीकर ने अयोग्य ठहराते हुए इनकी सदस्यता रद्द कर दी थी. तब से ये मामला कोर्ट में है. अगर ये फैसला विधायकों के हक में आता तो पलानीसामी की सरकार खतरे में आ जाती. लेकिन फिलहाल ये खतरा टल गया है.

चीफ जस्टिस इंदिरा बनर्जी ने केस को खारिज करते हुए विधानसभा स्पीकर के फैसले को सही माना. उन्होंने कहा कि स्पीकर के पास इसका अधिकार है. वहीं बेंच के दूसरे जज ने इसके उलट फैसला सुनाया. अब ये मामला तीन जजों की बेंच के पास चला गया है. इस मामले में फैसला आने से पहले दिनाकरण ने अपने सभी 18 विधायकों की मीटिंग बुलाई थी.

इस मामले में अब क्या हो सकता है...

-अगर तीन जजों की बैंच अब स्पीकर के फैसले को गलत ठहराता है, तो विधानसभा में फ्लोर टेस्ट हो सकता है. इसमें ई. पलानीस्वामी को संख्या जुटाने में मुश्किल हो सकती है.

-अगर कोर्ट स्पीकर के फैसले को सही ठहराता है, तो सभी 18 विधानसभाओं पर चुनाव हो सकता है.

तमिलनाडु विधानसभा की अभी ये है स्थिति

कुल विधायक 234

एआईएडीएमके 114

डीएमके 98

टीटीवी दिनाकरण- 1+18 विधायक ( इनका फैसला 3 जजों की बैंच करेगी.)

अब अगर दिनाकरण और डीएमके साथ आए तो उनकी सरकार बन सकती है. क्योंकि डीएमके के 98 और दिनाकरण गुट के 19 विधायक हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।