नई दिल्ली. एक बड़े ही खुफिया ऑपरेशन के तहत अप्रत्याशित तौर पर भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) की उस नापाक मंशा को नाकाम कर दिया, जिसमें उसकी योजना दिल्ली को दहलाने की थी. इसके लिए उसने अफगानिस्तान के आत्मघाती हमलावर को दिल्ली भेजा था. इस मामले में खुफिया विभाग ने कई रैकेटियरों को गिरफ्तार भी किया है.

इसके लिए आईएस की तरफ से उस हमलावर के रहने का बकायदा दिल्ली में इंतजाम भी किया गया था. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय एजेंसियों की तरफ से यह गिरफ्तारी नई दिल्ली के लाजपत नगर में सितंबर 2017 में की गई लेकिन यह तभी जाना जा सका जब शीर्ष कूटनीतिज्ञ और खुफिया सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की. अब उस अभियान की पुष्टि कर दी गयी है. आईएस का गुर्गा जो नई दिल्ली में रहकर इंजीनियरिंग का छात्र बनकर रह रहा था उसे गिरफ्तार करने के बाद अफगानिस्तान ले जाया गया और इस समय ऐसा माना जा रहा है कि वह अफगानिस्तान स्थित अमेरिकी सैन्य ठिकाने में हिरासत में है.

सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि अफगानिस्तान हमलावर के कबूलनामे और पूछताछ को अफगानिस्तान में तालिबान के खिलाफ अमेरिकी सैन्यबलों को मिली सफलता का एक संभावित कारण बताया जा रहा है. रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) ने दुबई से अफगानिस्‍तान में 50,000 डॉलर के संदिग्‍ध ट्रांसफर को ट्रैक करना शुरू किया. अमेरिका से मिली खुफिया सूचनाओं के आधार पर पता चला कि आईएस ने धमाके के लिए नई दिल्‍ली को भी टारगेट किया है.

टेलिफोन इंटरसेप्‍ट्स में पता चला कि हमलावर नई दिल्‍ली पहुंच चुका है. ऐसे में अफगान से दोस्‍ती करने के लिए एक एजेंट को चुना गया. सूत्रों के अनुसार, भारतीय एजेंट वही था जिसने हमलावर को लाजपत नगर में सुरक्षित जगह दिलाई. करीब एक महीने के लिए उसकी निगरानी को भारत ने 80 अधिकारियों को तैनात किए रखा, ताकि टारगेट कभी नजर से दूर न जा सके. इसके बाद उसे खुफिया एजेंसियों ने अपनी कस्टडी में ले दिया था.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।