लाहौर. पाकिस्तान के अपदस्त प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम शरीफ को भ्रष्टाचार के मामले में सजा सुनाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान की राजनीति में भूचाल आ गया है. एक तरफ जहां शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज (पीएमएल-एन) ने 25 जुलाई को होने जा रहे आम चुनाव में मरियम नवाज की जगह दो अन्य उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारने का फैसला लिया है.वहीं दूसरी तरफ गृह विभाग दोनों को पाकिस्तान पहुंचते ही गिरफ्तार कर जेल ले जाने की तैयारी में जुट गया है.

डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, नवाज शरीफ और मरियम के लाहौर पहुंचते ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा. अखबार ने गृह मंत्रालय के सूत्रों के हवाले से लिखा है कि नवाज शरीफ को पूर्व संसद सदस्य होने के नाते 'बेहतर वर्ग' श्रेणी के जेल में रखा जाएगा. लेकिन अगर मरियम जेल में 'लग्जरी सेवाएं' चाहती हैं तो उन्हें पहले यह साबित करना होगा कि वह सालाना 6 लाख या फिर उससे ज्यादा का इनकम टैक्स भरती हैं.

दो श्रेणियों में बंटे हैं पाकिस्तान के जेल

रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्हें तब तक सामान्य जेल में रखा जाएगा जब तक वो खुद बेहतर वर्ग श्रेणी की सुविधाओं के लिए आवेदन नहीं करते. रिपोर्ट के मुताबिक, जेल प्रशासन के समक्ष दोनों को एक आवेदन जमा करना होगा. हालांकि, उन्हें जेल में एयर कंडीशनर या रेफ्रिजरेटर नहीं दिया जाएगा. रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के जेलों को दो श्रेणियों में बांटा गया है सामान्य वर्ग और बेहतर वर्ग श्रेणी. पूर्व संसद सदस्य होने के नाते नवाज शरीफ को बेहतर वर्ग श्रेणी की जेल में रखने का फैसला लिया जा सकता है.

दामाद को भी मिलेंगी सुविधाएं

गृह विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से रिपोर्ट में बताया गया है कि नवाज शरीफ के दामाद कैप्टन मोहम्मद सफदर अवान (सेवानिवृत्त) भी इन सेवाओं के लिए आवेदन कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि मंगलवार तक उन्होंने ऐसी किसी सुविधा के लिए आवेदन वहीं किया था इसलिए उन्हें सामान्य जेल में रखा गया है. आपको बता दें कि सफदर को सोमवार को कड़ी सुरक्षा के बीच रावलपिंडी की अदियाला जेल भेजा गया था. उन्हें भ्रष्टाचार के मामले में एक साल की सजा दी गई है.

अवान दोषी करार दिए जाने के बाद शुक्रवार को कथित तौर पर भूमिगत हो गए थे. इसके एक दिन बाद वह रावलपिंडी में दिखाई दिए और पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) की एक रैली का नेतृत्व किया, जहां उनके समर्थकों के भारी विरोध के बीच भ्रष्टाचार रोधी अधिकारियों ने उन्हें आखिरकार गिरफ्तार किया.

10 दिन बाद पाकिस्तान लौटने का दावा

उधर, भ्रष्टाचार मामले में नवाज शरीफ को 10 साल और उनकी बेटी मरियम को 7 साल की सजा सुनाई गई. इसके तुरंत बाद मरियम ने लंदन में प्रेस वार्ता कर कहा कि वह अदालत के निर्णय के खिलाफ अपील दायर करने के लिए 10 दिनों के भीतर स्वदेश लौटेंगी. मरियम ने कहा कि वह और उनके पिता भ्रष्टाचार के मामले में उनकी सजा के खिलाफ अपील दायर करने के लिए भ्रष्टाचार निरोधक अदालत द्वारा की गई 10 दिन की समयावधि समाप्त होने से पहले पाकिस्तान लौट आएंगे.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।