चंडीगढ. एक व्यक्ति ने रेप पीडि़ता से शादी की और कहा, अब कानून पढ़ो और अपनी लड़ाई खुद लड़ो. ये कहानी बेहद संवेनशील और मानवीय पक्ष को उभारतने वाली है. जिस लड़के ने शादी की उसी की भाषा में-हमारी शादी की बात चली. लड़की बहुत चुप-चुप और उदास सी रहती थी. एक दिन उसने कहा कि मैं आपसे शादी करने के लायक नहीं हूं. मैं किसी से भी शादी करने के लायक नहीं हूं. मुझे बड़ा अजीब लगा कि ये ऐसा क्‍यों कह रही है,

लड़की बड़ी सुंदर थी, भली थी, बस उदास बहुत थी. उसकी आंखें हमेशा बुझी-बुझी सी रहतीं थी और बहुत चुप रहती थी. इतनी बात भी उसने ऐसे बोली थी, मानो कितनी मेहनत, कितनी कोशिश से बोली हो. लड़के ने बताया कि मैंने काफी जोर देकर बार-बार पूछा तो उसने जो बताया, उसे सुनकर मेरे पांव तले मानो जमीन ही खिसक गई हो.

वो बी.ए. फस्‍र्ट ईयर की छात्रा थी, जब उसके साथ ये हादसा हुआ. गांव के ही दबंग समुदाय के कुछ लड़कों ने उसे अगवा करके और कोई नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ बलात्‍कार किया. वो यहीं नहीं रुके. उन्‍होंने उसका अश्‍लील वीडियो बना लिया और उसे दिखाकर उसे ब्‍लैकमेल करने लगे. उन्‍होंने अपने दोस्‍तों के साथ भी उसे जाने के लिए मजबूर किया.

जैसे प्रसाद बांटते हैं, वैसे ही लड़के आपस में उसका बंटवारा करते रहे. लड़की बहुत डरी हुई थी. घरवालों को पता थी ये बात लेकिन ये कुकर्म करने वाले इतने ताकतवर लोग थे कि लड़की और उसके घरवालों में उनसे लडऩे की हिम्‍मत नहीं थी. वो चाहते थे कि बस किसी तरह उसकी शादी हो जाए.

लड़की के साथ जो हादसा गुजरा था, उसने उसे भीतर से बिल्‍कुल तोड़ दिया था. इस डर से वो शादी के लिए भी तैयार नहीं थी. उसने चुपके से ये बात मुझे बताई. मेरे लिए वो काफी मुश्किल घड़ी थी. जब मैंने अपनी मां को सारी बात बताई तो मां के शब्‍दों ने मेरी सारी मुश्किलें दूर कर दीं.

मां ने कहा कि उस लड़की ने मुझे शादी से पहले, इस घर में आने से पहले सबकुछ सच-सच बता दिया है. अब ये तेरी जिम्‍मेदारी है कि तू उस लड़की को पूरे मान-सम्‍मान के साथ स्‍वीकार कर, उससे शादी कर और उसके लिए न्‍याय की लड़ाई भी लड़. तेरे बिना वो अकेले अपने लिए खड़ी नहीं हो पाएगी.

मेरे मन में जो थोड़ा-बहुत शुबहा था भी, वो मां की बातों से जाता रहा. मैंने उससे शादी की. आज हमारा दो साल का एक बेटा है और हम एक-दूसरे के साथ बहुत खुश हैं. आज भी वो कभी-कभी डरकर नींद से जाग जाती है, चौंककर उठ जाती है, तो मैं उसे संभाल लेता हूं. उसका हाथ थामकर उसे यकीन दिलाता हूं कि मैं हमेशा उसके साथ हूं, आखिरी सांस तक.

शादी के बाद मैंने उसे कानून की पढ़ाई करने की सलाह दी ताकि वो अपनी लड़ाई खुद लड़ सके. मैं तो ये लड़ाई लड़ ही रहा हूं लेकिन उसे ज्‍यादा खुशी होगी, उसका खुद पर भरोसा बढ़ेगा अगर वो खुद कानून की बारीकियों को समझेगी और अपने लिए लड़ेगी. वो घर के कामों और बच्‍चे को संभालने के साथ पढ़ाई भी करती है. फस्‍र्ट ईयर अच्‍छे नंबरों से पास किया. अब अगली परीक्षा की तैयारी है.

ये शादी और ये कानूनी लड़ाई दोनों ही आसान नहीं थे. हम जानते हैं कि हम जिन लोगों से लड़ रहे हैं, वो बहुत ताकतवर लोग हैं. कानून से लेकर पुलिस तक सब उनकी जेब में है. उनके पास इतना पैसा है कि वो जिसे चाहे खरीद सकते हैं. हम जो फिल्‍मों में देखते हैं कि कैसे पैसे से लोग पुलिस, वकील, कानून सबको अपनी मु_ी में कर लेते हैं, वैसा होते मैं असल जिंदगी में देख रहा हूं. मुझे कई बार जान से मारने की धम‍कियां मिली हैं. 

मुझे पता है, ये लड़ाई आसान नहीं लेकिन इस संघर्ष में मेरा और उसका परिवार हमारे साथ हैं. गांव में भी मेरी इज्‍जत है. किसी ने इस शादी को लेकर मुझ पर उंगली नहीं उठाई, बल्कि सम्‍मान से सिर पर बिठाया. घर में सब मेरी पत्‍नी का वैसे ही आदर करते हैं, जैसे घर की बहू का किया जाना चाहिए.

आपको बता दें कि मुझ पर दो झूठे मुकदमे किए जा चुके हैं. धमकी भरे फोन आते हैं कि मुकदमा वापस ले लो, वरना तुम्‍हारे पूरे परिवार को जान से मार डालेंगे लेकिन मैं इन धमकियों से डरने वाला नहीं हूं. हर बार जब हम मुकदमे की सुनवाई के लिए चंडीगढ़ जाते हैं तो हमें अपनी सुरक्षा का डर सताता रहता है. हम हर बार किसी नए रास्‍ते से जाते हैं. मेरी पत्‍नी के लिए भी ये सब आसान नहीं है. उसे मेरी सुरक्षा का डर सताता रहता है. जब मुकदमे के लिए घर से जाती है तो बच्‍चा उसके बगैर रोता है. वो दिल पर पत्‍थर रखकर सब करती है, ताकि लड़ सके और जीत सके.

इस जंग में क्या होगा मुझे पता नहीं है लेकिन मुझे इस बात का संतोष है कि आने वाले समय में कोई यह नहीं कहेगा कि जानते-समझते हुए भी एक लड़की को हमने साथ नहीं दिया. अब लड़ाई जारी है. हमें बेहद सतर्क रहना होता है लेकिन हमारे साथ सत्य का साथ है और उस लड़की की ताकत है जिसने बेहद कठिन दौर देखे. हम दोनों अपने गांव और परिवार के साथ बड़ी तसल्ली से लड़ाई लड़ रहे हैं आगे उपर वाले की मर्जी. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।