ऐडिलेड. चेतेश्वर पुजारा ने वह किया जो उन्हें सबसे बेहतर आता है, विकेट पर टिकना. ऐडिलेड टेस्ट के पहले दिन भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही. लेकिन पुजारा अपना काम करते रहे. वह गेंदबाजों को थकाते रहे. और अपनी गति से रन बनाते रहे. ऑस्ट्रेलिया का कोई गेंदबाज उन्हें आउट नहीं कर पाया. अंत में वह 123 रन बनाकर रन आउट हुए. दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने 9 विकेट के नुकसान पर 250 रन बना लिए हैं. ऑस्ट्रेलिया की ओर से सभी मुख्य गेंदबाजों (मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, पैट कमिंस और नाथन लायन) ने दो-दो विकेट लिए.

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. कोहली ने कहा कि विकेट अच्छा है और वह इसका फायदा उठाना चाहेंगे. हालांकि ओपनिंग टीम इंडिया के लिए यहां भी परेशानी बनी रही. पृथ्वी साव के चोटिल होने के कारण भारत ने मुरली विजय और लोकेश राहुल के साथ पारी की शुरुआत करने का फैसला किया. खेल के दूसरे ही ओवर में राहुल जोश हेजलवुड की ऑफ स्टंप के बाहर एक फुल गेंद पर अधूरा सा ड्राइव खेलने गए.

गेंद ने बल्ले का किनारा लिया और तीसरी स्लिप में खड़े आरोन फिंच ने उनका आसान सा कैच पकड़ा. राहुल ने सिर्फ दो रन बनाए. दूसरे बल्लेबाज मुरली विजय कुछ सेट नजर आ रहे थे लेकिन 11 पर पहुंचने के बाद वह मिशेल स्टार्क की गेंद पर बल्ला अड़ा बैठे और विकेट के पीछे टिम पेन ने आसान सा कैच लपका.

ऑफ स्टंप के बाहर की गेंदों को खेलना भारतीय कप्तान विराट कोहली को भी भारी पड़ा. पैट कमिंस ने अपने पहले ही ओवर में कोहली को ऑफ स्टंप के बार फुल गेंद फेंकी. कोहली ने आखिर अपना संयम खोया और एक खराब शॉट खेला. गेंद हवा में गई और गली में खड़े उस्मान ख्वाजा ने उनका शानदार कैच लपका.  कोहली सिर्फ तीन बनाकर आउट हो गए. 

अजिंक्य रहाणे भी ज्यादा कुछ नहीं कर सके और खराब शॉट खेलकर आउट हो गए. एक बार फिर फुल गेंद थी. रहाणे ड्राइव के लिए गए. गेंद बल्ले के किनारे से लगी और दूसरी स्लिप में खड़े पीटर हैंड्सकॉम्ब ने अपने सिर के ऊपर अच्छा कैच लपका. भारत 41 रनों पर चार विकेट खो चुका था. लंच तक भारत ने 15 रन और जोड़े. लंच तक भारत 56 रनों पर चार विकेट गंवाकर संकट में था. 

रोहित शर्मा ने ऑफ स्टंप के बाहर की कई गेंदों को छोड़ने का धैर्य दिखाया. लेकिन वह कमजोर गेंदों पर प्रहार करने का भी साहस दिखा रहे थे. लेकिन यहीं वह फंस गए. नाथन लायन की गेंद पर छक्का लगाने के बाद वह फिर उसे दोहराने गए लेकिन इस बार गेंद को लंबाई नहीं ऊंचाई मिली. रोहित 37 रन बनाकर आउट हो गए. 

विकेट गिरने के सिलसिले के बीच चेतेश्वर पुजारा ने एक छोर संभाले रखा. उन्होंने ऋषभ पंत के साथ छठे विकेट के लिए 41 रनों की भागीदारी की. पंत 25 रन बनाकर लायन की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए. चेतेश्वर पुजारा ने इस बीच अपने टेस्ट करियर में 5000 रन पूरे किए और 16वीं सेंचुरी भी लगाई. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।