नई दिल्ली. देश के इतिहास में पहली बार इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने एक अनोखी रेड मारी है. ये छापा कब्रिस्तान में पड़ा है. फिर छापे के दौरान जब एक कब्र खोदा गया तो उसमें से निकला 433 करोड़ रुपये का खज़ाना. दरअसल 28 जनवरी को आयकर विभाग को ख़बर मिली कि तमिलनाडु के मशहूर सर्वणा स्टोर, लोटस ग्रुप और ज़ी स्कॉवयर के मालिकों ने हाल ही में कैश के जरिए चेन्नई में 180 करोड़ की प्रॉपर्टी खरीदी है. और वो इस डील को छुपाकर टैक्स की हेराफेरी कर रहे हैं. ये खबर इतनी पक्की थी कि आयकर विभाग ने इन कंपनियों के चेन्नई और कोयंबटूर में 72 ठिकानों पर छापा मारने के लिए कई टीमें तैयार कीं, और सुबह से ही आयकर विभाग की टीम इन कंपनियों के ठिकानों पर छापे मारने लगीं. मगर इनकम टैक्स के अधिकारियों के हाथ कुछ भी नहीं लगा.

आयकर विभाग को को अपनी इंफार्मेशन पर इतना यकीन था कि वो खुद को नाकाम मानने के बजाए इस बात की तफ्शीश में जुट गए कि उनकी ये रेड नाकामयाब कैसे रही. मुखबिरों को एक्टिव किया गया, शहर के सैकड़ों सीसीटीवी चेक किए गए. कॉल डिटेल खंगाली गईं. तब जाकर पता चला कि एक एसयूवी गाड़ी उस रोज़ यानी 28 जनवरी को पूरे दिन सड़कों पर बेवजह इधर-उधर घूम रही थी. जिसकी फुटेज देखकर डिपार्टमेंट को शक हुआ. सीसीटीवी की तलाश की गई मगर उसमें काफी वक्त लगा हालांकि अगले ही दिन पुलिस ने उस एसयूवी और उसके ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया.

7 फरवरी 2019 को खबर मिलते ही आयकर विभाग की टीम सुबह सुबह चेन्नई के एक कब्रिस्तान में दाखिल हुई. उनके साथ उस एसयूवी का ड्राइवर भी था, जो 28 जनवरी को पूरे दिन अपनी गाड़ी को शहर में घुमा रहा था. गिरफ्तारी के बाद उससे रातभर कड़ी पूछताछ की गई थी और इस वक्त भी वो कब्रिस्तान में आयकर विभाग के अधिकारियों के साथ आया था. सैकड़ों कब्रों के बीच उस ड्राइवर ने एक कब्र की तरफ इशारा किया. उसके इशारा करते ही पूरा डिपार्टमेंट उस कब्र की तरफ दौड़ पड़ा. फावड़ा, कुदाल और बेलचा लेकर कर्मचारी जुट गए. आनन फानन में कब्र को खोदा गया. फिर जब कब्र की मिट्टी हटी और जो तस्वीर दिखी. उसने वहां खड़े आयकर के तमाम अधिकारियों और कर्मचारियों के होश उड़ा दिए.

चेन्नई और कोयंबटूर में जो हुआ वो शायद इस देश के इतिहास में पहली बार था. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की इस रेड की कहानी किसी साउथ इंडियन फिल्म जैसी थी. लेकिन यहां पर जो हुआ वो फिल्म की कहानी न होकर सच था. ड्राइवर की निशानदेही पर कब्र से जब मिट्टी हटाई गई तो कब्र के अंदर. करीब 25 करोड़ रुपये नकद, 12 किलो सोना और 626 कैरेट के हीरे बरामद किए गए. इन तमाम चीज़ों की कुल कीमत जब आयकर विभाग निकाली तो कीमत बैठी 433 करोड़ रुपये. यानी इस कब्र के नीचे पूरा का पूरा खज़ाना दफ्न था. 433 करोड़ की कीमत का खजाना.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।