महिला दिवस पर आपको भातर की एक ऐसी महिला के बारे बताते हैं जो बिना किसी सरकारी सहायता के मुफ्त में आर्मी, एयरफोर्स और नेवी समेत पैरामिलिट्री फोर्स के कमांडो को ट्रेनिंग देती हैं. डॉ. सीमा राव देश की पहली और इकलौती महिला कमांडो ट्रेनर हैं.वो उन पांच चुनिंदा महिलाओं में शामिल हैं जिन्हें ‘जीत कुन डो’ मार्शल आर्ट आता है. इस मार्शल आर्ट को ब्रूस ली ने ईजाद किया था. 49 साल की सीमा 20 साल से कमांडो को ट्रेनिंग दे रही हैं. डॉ. राव सशस्त्रबलों के जवानों को रिफ्लेक्स फायर यानी आधे सेकंड में किसी को शूट कर देने की ट्रेनिंग देने के लिए भी जानी जाती हैं. उनकी शादी मेजर दीपक राव से हुई है.

अपने बारे में सीमा राव बताती हैं कि वो बचपन में बहुत कमजोर थी और इसी के चलते उन्होंने मार्शल आर्ट्स सीखा और अनआर्म्ड कॉम्बैट में ब्लैक बेल्ट हासिल किया. कमांडो ट्रेनिंग देने के किस्से को लेकर सीमा राव बताती हैं कि एक दिन हम मॉर्निंग वॉक पर गए तो देखा कि जवान अनआर्म्ड कॉम्बैट की ट्रेनिंग ले रहे हैं. हमने जब पूछा तो पता चला कि ये आर्मी का ट्रेनिंग स्कूल है. फिर हमने वहां के कमांडेंट ऑफिसर से मिलकर एक वर्कशॉप की योजना बनाई. इस वर्कशॉप के बाद कमांडेंट ने हमें अच्छे रिव्यू दिए और इसी रिव्यू के आधार पर हम मुंबई पुलिस कमिश्नर आरडी त्यागी से मिले.

उन्होंने बताया कि जब त्यागी एनएसजी के महानिदेशक बने तो उन्होंने हमें अनआर्म्ड कॉम्बैट ट्रेनिंग देने के लिए इनवाइट किया. उसके बाद हम आर्मी चीफ से मिले और बताया कि हम आर्मी को भी ऐसी ट्रेनिंग देना चाहते हैं. उन्होंने पैरासेंटर बेंगलुरु में कॉम्बैट ट्रेनिंग के लिए आर्मी का पहला कोर्स शुरू करवाया. धीरे-धीरे आर्मी की अलग-अलग यूनिट्स हमें ट्रेनिंग देने के लिए बुलाने लगीं. इसके बाद मैंने शूटिंग सीखी. मैंने आर्मी की अलग-अलग यूनिट्स में भी इसके डैमाे दिए. इस तरह मैं नेवी, आर्मी, एयरफोर्स, पुलिस फोर्स और पैरामिलिट्री फोर्स को ट्रेनिंग देने लगी. सीमा राव क्लोज क्वार्टर बैटल (सीक्यूबी) की ट्रेनिंग देती हैं. जिमसें दुश्मन के साथ 30 मीटर के अंदर लड़ाई करना सिखाया जाता है. राव ब्रूस ली के मार्शल आर्ट्स ‘जीत कुन डो’ से काफी इम्प्रेस्ड हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।