नई दिल्ली. आयकर विभाग  की टीम ने मायावती के प्रमुख सचिव रहे पूर्व आईएएस नेतराम और कपड़ा कारोबारी विष्णु वल्लभ रस्तोगी व दो अन्य कारोबारियों के 11 ठिकानों पर मंगलवार को छापे मारे. इस दौरान अफसरों को दोनों जगहों से करोड़ों रुपये की अघोषित संपत्ति के दस्तावेज मिले, जिन्हें जब्त कर लिया गया है.

नेतराम के लखनऊ के गोमतीनगर बंगले से 18 लाख की रिकवरी की गई जबकि  दिल्ली के आवास से 86 लाख की बरामदगी की गई है. वहीँ नेतराम के बैंक लॉकरों में 50 लाख,4 बेनामी लक्ज़री कार बरामद की गई है. इसके अलावा जांच में नेतराम की 225 करोड़ की बेनामी सम्पत्तियों का भी पता चला है.

नेतराम की 30 शेल कम्पनियों का भी खुलासा हुआ है, इन शेल कम्पनियों में उसके सगे-सम्बंधी डॉयरेक्टर हैं. शेल कम्पनियों के बैंक अकाउंट में नेतराम के फैमली मेम्बर साइनिंग अथॉरिटी है. इसके अलावा मुंबई में एक और कोलकाता में 3 बोगस कम्पनियों का पता चला है.

अफसरों ने नेतराम व उनकी बेटी पूनम के दो बैंक खाते व दो लॉकर सीज कर दिए हैं. सूत्रों के अनुसार मुंबई की एक कंपनी पर हुई कार्रवाई के दौरान कनेक्शन नेतराम से जुड़ने पर यह कार्रवाई की गई. नेतराम के अमीनाबाद स्थित मशहूर कपड़ा शोरूम गाढ़ा भंडार के मालिक विष्णु वल्लभ रस्तोगी समेत अन्य कारोबारियों से गहरे ताल्लुकात मिले, जिसके चलते ये भी कार्रवाई की जद में आ गए.

आयकर विभाग के अनुसार अब की कार्रवाई में नेतराम के लखनऊ के आवास से लाखों रुपये, दिल्ली स्थित एक मकान से 86 लाख रुपये और उनसे जुड़े एक व्यक्ति से लाखों रुपये नकद मिले हैं. इसके अलावा 50 लाख रुपये एक लॉकर में रखे होने की जानकारी मिली है. इसकी जांच चल रही है. हालांकि आयकर विभाग इसकी पुष्टि नहीं कर रहा है. खबरों के मुताबिक कि नेतराम की 30 मुखौटा कंपनियां हैं. उनमें उनके करीबी, रिश्तेदार और परिवार के सदस्य शेयरधारक और निदेशक हैं. इन्हीं करीबियों के जरिए कंपनियों का कामकाज कागजों में चलाया जा रहा था. आयकर अधिकारियों ने बताया कि अपने रिश्तेदारों को इन कंपनियों के शेयर उपहार में दिए थे. उनके आरोप हैं कि बच्चे इन कंपनियों के बैंक खातों को चलाते हैं. इन कंपनियों के माध्यम से कोलकाता के हवाला ऑपरेटर के माध्यम से 95 करोड़ रुपये लिए थे. इसकी इंट्री खातों में दिखी. बाद में इस पैसे से कई जमीनें खरीदी गईं. इसके अलावा डायरियां मिली हैं, जिनमें हाथ से इंट्री दर्ज हैं और अन्य ब्यौरा लिखा गया है कि किस तरह इन शेल कंपनियों को खरीदा और निवेश किया गया. 

नेतराम के पास 50 लाख रुपये का बेशकीमती मोंट ब्लांक पेन बरामद हुआ है. इसके अलावा अलग-अलग ठिकानों से चार बेनामी लग्जरी कारें मिली हैं. इनमें दो मर्सडीज और दो फार्रच्यूनर हैं. लखनऊ और दिल्ली में उनके मकानों पर मिनी थिएटर, जिम, बेहद कीमती इंटीरियर और फिटिंग्स मिले हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।