गुजरात. गुजरात के आणंद जिले के रहने वाले 30 साल के किसान बाबूभाई परमार के घर रात डेढ़ बजे चारपाई के नीचे मगरमच्छ निकल आया. किसान परमार उसे देखकर पहले तो काफी डर गए. फिर अपने आप को संभालकर किसी तरह से वहां से बाहर निकले और गांव वालों को इसकी सूचना दी. बाद में ग्राम प्रधान और वन विभाग की टीम की मदद से मगरमच्छ को वहां से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया.

खबर के मुताबिक, मालाताज गांव के रहने वाले बाबूभाई परमार रोज की तरह रात को अपनी चारपाई पर सो रहे थे. रात को डेढ़ बजे के करीब कुत्तों के भौंकने की आवाज से उनकी नींद टूट गई. इस दौरान आधे जगे परमार ने अपनी चारपाई के छेदों से देखा कि उसके नीचे एक मादा मगरमच्छ बैठी है. यह देखकर डर से कांप रहे बाबूभाई किसी तरह से वहां से बाहर निकले और गांव वालों को इसकी सूचना दी. बाद में वन विभाग और गांव के लोगों की मदद से मगरमच्छ को चारपाई के नीचे से बाहर निकाला गया. गांव के सरपंच दुर्गेश पटेल ने बताया कि 8 फीट की मादा मगरमच्छ गर्भवती थी. उन्होंने बताया कि इस मौसम में वे अंडे देने के लिए सुरक्षित जगह की तलाश में होती हैं.

सरपंच ने बताया कि कई बार उन्होंने खुद ऐसी परिस्थितियों में मगरमच्छों का रेस्क्यू किया है. लेकिन मादा मगरमच्छ के गर्भवती होने की वजह से उन्होंने उसे सावधानी से हैंडल करने का फैसला किया. पटेल के पास आमतौर पर ऐसी स्थितियों से निपटने के लिए एक पिंजरा होता है लेकिन गुरुवार को यह उनके पास उपलब्ध नहीं था.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।