कलाकार- नसीरुद्दीन शाह, मिथुन चक्रवर्ती, पंकज त्रिपाठी, श्वेता प्रसाद, पल्लवी जोशी, मंदिरा बेदी

निर्देशक-  विवेक अग्निहोत्री

मूवी टाइप- ड्रामा,थ्रिलर,मिस्ट्री

अवधि- 2 घंटा 24 मिनट

निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने उसी क्रिऐटिव फ्रीडम के तहत 'द ताशकंद फाइल्स' पर फिल्म बनाई. फिल्म इतिहास के सर्वाधिक कॉन्ट्रोवर्शल अध्याय यानी स्वतंत्र देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शात्री की मौत के इर्दगिर्द बुनी गई है, जहां पर सवाल उठाए गए हैं कि क्या पूर्व पीएम की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई स्वाभाविक मृत्यु थी या ताशकंद समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद उन्हें जहर दे दिया गया था? बता दें कि उनकी मौत 11 जनवरी 1966 को हुई थी.

कहानी-  यह कहानी है अखबार की रिपोर्टर रागिनी की, जिसका बॉस उसको 15 दिनों का अल्टीमेटम दे देता है और इस दौरान रागिनी को एक सनसनीखेज रिपोर्ट देनी है! रागिनी को एक कॉल आता है और कुछ पहेलियां बुझाने के बाद वो एक हिंट देता है जो भारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री Lal Bahadur Shastri की रहस्यमई मौत से जुड़ा है!

गौरतलब है कि लाल बहादुर शास्त्री एक समझौता साइन करने पूर्व सोवियत यूनियन की राजधानी ताशकंद गए थे और समझौता साइन करने के बाद वहीं उनकी मौत हो गई थी! तब से लेकर आज तक शास्त्री जी की मौत को लकार यह कयास हमेशा से लगाया जा रहा है कि शास्त्री जी की मौत हृदयाघात से हुई या जहर देकर हुई? इस स्टोरी पर रागिनी तहे दिल से काम करना शुरू कर देती है और आगे इस दौरान उसे किस तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ता है.

सभी कलाकारों ने अच्छा अभिनय किया है. नसीरुद्दीन शाह का रोल बहुत छोटा है, मगर मिथुन चक्रवर्ती ने श्याम सुंदर त्रिपाठी की भूमिका में भरपूर मनोरंजन किया है. पल्लवी जोशी को एक लंबे अरसे बाद परदे पर देखना अच्छा लगा है. पंकज त्रिपाठी, मंदिरा बेदी और राजेश शर्मा ने अपनी भूमिकाओं को अच्छे से  निभाया है. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।