अनूपपुर. अनूपपुर-जैतहरी मुख्य मार्ग की निर्माणाधीन डेढ़ किलोमीटर लम्बी सड़क शासन प्रशासन के नासूर बन गई, जिसे चाहकर भी छोड़ा नहीं जा सकता, जिससे ठेकेदार अपनी मनमर्जी पर उतारू है. कभी कोई बहाना तो कभी कुछ जिससे सड़क निर्माण का कार्य कछुआ गति से चल रहा है. अधिकारियों के बार-बार कहने के बाद भी नियमित पानी का छिड़काव नही करता,सड़क पर धूल के गुबार से जनजीवन प्रभावित है. धूल से कई बिमारियों का आमंत्रण मिल रहा है.

फरवरी माह में खनिज मद से 3 करोड़ की राशि की स्वीकृत करने और प्रभारी मंत्री द्वारा धूल से जल्द मुक्ति दिलाने शीध्र निर्माण पूर्ण के दिए निर्देश के दो माह बीतने के बाद भी निर्माण कार्य आधा भी पूर्ण नहीं हो सका है. दो माह में ठेकेदार ने मात्र आधा किलोमीटर लम्बी सड़क का बेस तैयार किया है उसपर मजबूत कंक्रीट की परत बिछाना शेष है. आधे में सड़क में न बेस पड़ा है और ना ही समतलीकरण का कार्य पूर्ण हुआ है. इसे देखकर लगता है कि मानो नगरवासियों को सालभर और धूल के गुबार में अपनी जिंदगी गुजारनी होगी. मार्च तक निर्माण कार्य पूर्ण होने के आश्वासन में अप्रैल माह भी अब अंत होने को पहुंची है. लेकिन डेढ़ किलोमीटर लम्बी सड़क अबतक अधूरी है. लोगों का कहना है कि इससे भली पूर्व की जर्जर सड़क ठीक थी, कम से कम उसमें सांसे तो नहीं घुटती थी.

विदित हो कि अनूपपुर के अमरकंटक तिराहा से जैतहरी वाया वेंकटनगर तक 57 करोड़ की लागत से लगभग 40.600 मीटर सड़क निर्माण कार्य आरम्भ किया गया. इसमें दो साल बाद बजट कम होने की बात कहते हुए ठेकेदार की मांग पर पीडब्ल्यूडी विभाग की सहमति पर 11 करोड़ और राशि की बढ़ोत्तरी कराई गई. लेकिन फरवरी 2018 के दौरान अनूपपुर-जैतहरी मार्ग निर्माण के दौरान जैसे ही नगरपालिका अनूपपुर क्षेत्र के तुलसी महाविद्यालय से लेकर अमरकंटक तिराहा तक सड़क निर्माण का कार्य आरम्भ हुआ, ठेकेदार ने अपना बकाया भुगतान लगभग 3 करोड़ की राशि के भुगतान के अभाव में निर्माण कार्य बंद कर दिया. जिससे सालभर निर्माण कार्य बंद रहा. इसके बाद पुन: नगरवासियों की मांग पर अनूपपुर विधायक बिसाहूलाल सिंह ने सप्ताहभर का अल्टीमेंटम देते हुए ठेकेदार से निर्माण कार्य शीध्र आरम्भ करने के निर्देश दिए. लेकिन पैसे के बिना निर्माण कार्य आरम्भ नहीं करने ठेकेदार की बात पर विधायक ने खनिज मद से राशियां उपलब्धता कराने की बात कही. 14 फरवरी को प्रभारी मंत्री के जिला योजना समिति की समीक्षा बैठक में सड़क की दुर्दशा तथा नगरवासियों की परेशानियों को देखते हुए तत्काल खनिज मद से 3 करोड़ राशि की स्वीकृति प्रदान करते हुए निर्माण जल्द पूरा कराने के निर्देश दिए थे. लेकिन राशियां की स्वीकृति के बाद भी अनूपपुर-जैतहरी मार्ग अब नगरीय क्षेत्र अनूपपुर में बदहाल बनी हुई है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।