वाराणसी. पीएम नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 25 अप्रैल को रोड शो और 26 अप्रैल को अपना नामांकन करेंगे. नामांकन से पहले 25 अप्रैल को होने वाले रोड शो को भव्य और ऐतिहासिक बनाने के लिए तैयारियां की जा रही हैं. 25 अप्रैल को होने वाले रोड शो के लिए 150 से ज्यादा सामाजिक संगठनों द्वारा स्वागत किया जाएगा. रोड शो में शहनाई, शंख और डमरु से स्वागत और शुरुआत होगा, कलाकार सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत करते हुए चलेंगे. इसके साथ ही पीएम के इस रोड शो में मिनी इंडिया और बनारस की संस्कृति से जुड़ा हर रंग इस रोड शो में दिखाई देगा.

पीएम मोदी का रोड शो लंका स्थित मालवीय प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ शुरू होगा, जो विभिन्न रास्तों से होते हुए दशाश्वमेध जाकर समाप्त होगा. भव्य रोड शो के बाद प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी शाम सात बजे गंगा आरती में शामिल होंगे. गंगा आरती के पश्चात् वे काशी के बुद्धिजीवियों और सभी वर्गों के साथ वाराणसी के होटल डी पेरिस में वार्तालाप करेंगे. 26 अप्रैल को सुबह वे इसी स्थान पर काशी क्षेत्र के कार्यकर्ताओं के साथ वार्ता करेंगे. इसके बाद वे बाबा श्री काल भैरव का दर्शन पूजन करेंगे. इसके बाद वहां से पिपलानी कटरा स्थित सरोजा पैलेस आएंगे जहां 15 मिनट कार्यकर्ताओं से मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री बंद गाड़ी में बैठेंगे. उनका काफिला आगे की तरफ बढ़ेगा, प्रधानमंत्री लहुराबीर स्थित आजाद पार्क में चंद्रशेखर आजाद की मूर्ति पर माल्यार्पण करेंगे, उसके बाद प्रधानमंत्री का काफिला तेलियाबाग संपूर्णानंद होते हुए मिंट हाउस पहुंचेगा.

मिंट हाउस पर स्थित स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद काफिला नामांकन के लिए कचहरी जाएगा. कचहरी पहुंच कर 77 लोकसभा सीट के लिए प्रस्तावको के साथ प्रधानमंत्री अपना नामांकन करेंगे. प्रधानमंत्री के इस रोड शो में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह,,सुषमा स्वराज, नितिन गडकरी, जेपी नड्डा, अनुप्रिया पटेल, उद्धव ठाकरे और डॉ महेंद्र नाथ पांडे रोड शो में शामिल होंगे. नामांकन के दौरान बिहार के सीएम नीतीश कुमार, अकाली दल नेता सुखबीर सिंह बादल, शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे सहित कई एनडीए नेता मौजूद रहेंगे.

बता दें कि 2014 में पीएम मोदी ने वाराणसी से चुनाव लड़कर बड़ी जीत दर्ज की थी. इसके अलावा उन्होंने वडोदरा से भी जीत हासिल की थी. लेकिन बाद में वाराणसी सीट को बरकरार रखा था. 2014 में अरविंद केजरीवाल ने भी वाराणसी से चुनाव लड़ा था लेकिन बड़े अंतर से हार गए थे. सपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी संसदीय से शालिनी यादव को गठबंधन का उम्मीदवार घोषित किया है. वहीं कांग्रेस ने इस सीट से अभी किसी उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है, लेकिन प्रियंका गांधी वाड्रा के वाराणसी से चुनाव लड़ने के कयास लगाए जा रहे हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।