कोलंबो. श्रीलंका सरकार ने ईस्टर के दिन हुए बम धमाकों में मरने वालों की संख्या में संशोधन किया है और मृतकों की संख्या में 106 की कमी आई है. सीएनएन के मुताबिक श्रीलंका के स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को एक बयान जारी कर कहा कि बम विस्फोटों में मरने वालों की संख्या 359 की बजाए 253 है. जैसा कि मीडिया रिपोर्टों में बताया जा रहा था.

कोलंबो पुलिस के प्रवक्ता ने मंगलवार को सीएनएन को बताया था कि मृतकों की संख्या बढ़कर 359 हो गयी हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बयान में कहा, “विस्फोट इतने शक्तिशाली थे कि कुछ शव बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गये और संभव है कि कुछ शव पूरी तरह नष्ट हो गये हों अथवा उनके कई टुकड़े हो गये हों. ऐसे में मृतक की पहचान कर पाना काफी मुश्किल है. ” 

गौरतलब है कि श्रीलंका की राजधानी कोलंबो और पूर्वी शहर बट्टीकालोआ में गत रविवार को आत्मघाती हमलावरों ने होटलों और गिरजाघरों को निशाना बनाया था. इन धमाकों में 500 से अधिक लोग लोग घायल भी हुए थे. कुल मिलाकर नौ धमाके हुए थे और पुलिस ने इस सिलसिले में कई संदिग्धों को हिरासत में लिया है. अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ने हमले की जिम्मेदारी ली है.

विस्फोटों की जांच अंतरराष्ट्रीय स्तर पर की जा रही है. ब्रिटेन की स्कॉटलैंड यार्ड और अमेरिकी की एफबीआई समेत छह विदेशी पुलिस एजेंसियां और इंटरपोल स्थानीय पुलिस की मदद कर रहा है. श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसंघे ने इससे पहले बयान दिया था कि उनका देश और अधिक हमलों का अब भी सामना कर रहा है. सुरक्षा विभाग ऐसे स्लीपरों को निशाना बना रहा है जो फिर से आतंकी हमलों को अंजाम दे सकते हैं.  

श्रीलंका में आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने को लेकर आलोचना का सामना कर रहे विक्रमसिंघे ने कहा कि ईस्टर धमाकों के लिए जिम्मेदार कुछ संदिग्ध हमलावरों की देश की खुफिया सेवा निगरानी कर रही है. विक्रमसिंघे ने कार्रवाई न करने पर सफाई दी थी कि हमले से पहले संदिग्ध हमलावरों को हिरासत में लेने का अधिकारियों के पास कोई मजबूत सबूत नहीं था.

श्रीलंका के रक्षा सचिव हेमसिरि फर्नांडो ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. फर्नांडो ने यह फैसला वहां हुए आत्मघाती बम धमाकों को रोकने में विफल रहने पर दिया है. बता दें कि श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने रक्षा सचिव हेमसिरी फर्नांडो और देश के पुलिस प्रमुख पुजीत जयसुंदरा से इस्तीफा देने को कहा था. मीडिया में बुधवार को आई खबरों के अनुसार खुफिया सूचना होने के बाद भी आत्मघाती हमलों को रोक पाने में विफल रहने पर दोनों अधिकारियों से इस्तीफा देने को कहा गया था.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।