जयपुर, पलपल इंडिया. देश के दिग्गज आदिवासी नेता के तौर पर छवि बना चुके अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के जनजाति प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, राजस्थान के पूर्व केबीनेट मंत्री व प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष महेन्द्रजीत सिंह मालवीया ने कहा है कि- देश की जनता भाजपा उसके समर्थक दलों के नेताओं के वादों और इरादों को समझ चुकी है औैर इस बार केन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है, जिसका नेतृत्व करते हुए कांग्रेसाध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री होंगे. 

मालवीया ने कहा कि भाजपा नेताओं ने लोकसभा चुनावों में अपने पांच वर्ष के कार्यकाल के आधार पर वोट नहीं मांगे हैं और कांग्रेस शासनकाल की तथाकथित कमियों को गिनवाकर वोट हांसिल करने का प्रयास करते रहे हैं, उनकी केन्द्र सरकार की विफलता का इससे बड़ा कोई उदाहरण नहीं हो सकता है. उन्होंने कहा कि देश के लिये अपना बलिदान करने वाले और विकास की नींव को रखकर वर्तमान विकसित भारत का आधार तैयार करने वाले कांग्रेस के दिग्गजों पर कीचड़ उछाल कर केन्द्र सरकार के जिम्मेदार पदों पर बैठे लोग और भाजपा नेता अपनी नाकामियों को नहीं छिपा सकते हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेसाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा राफेल सहित कई मुद्दों पर केन्द्र सरकार को घेर कर भाजपाइयों को बेनकाब कर दिया है.

मालवीया ने कहा कि 2014 में जनता से बड़ेे बड़े वादे करके केन्द्र्र की सत्ता में आने वाले लोगों ने नोटबंदी, जीएसटी के विकृत स्वरूप का क्रियान्वयन, विकास के मोर्चे पर विफलता, आर्थिक मोर्चे पर दयनीय प्रदर्शन, रूपये के मुकाबले डालर के मूल्य का सर्वोच्च स्तर, दैनिक उपयोग की वस्तुओं पर मंहगाई की मार, पेट्रोलियम उत्पादों के उच्चतम मूल्य स्थिति के चलते जनता का विश्वास खो दिया है. विदेशों में जमा कालाघन लाने के दावों के बीच नोटबंदी से गरीबों को घक्के खाने पड़ गये और देश के विकास चक्र पर विपरित प्रभाव पड़ा है. 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस व समर्थक दलों को महागठबंधन बताने वाले भाजपा नेता कई दलों को साथ लेकर चुनाव लड़ रहे हैं, क्या वो गठबन्धन नही हैे? देश में समान विचारधारा के लोगों के साथ रहने में कोई आपत्ति नहीं है. हर मोर्चे पर विफल केन्द्र सरकार के नेता सिर्फ एक मामले में सफल रहे हैं, वो है- देश व विदेश की यात्राएं करना. यात्राओं का रिकार्ड बनाने वाली इन यात्राओं से कोई उपलब्धि अर्जित नहीं हो पााई है, यह मुद्दा महत्वपूर्ण है. उपलब्धिविहिन यात्राएं सिर्फ सैर करने का माध्यम बनकर रह गई हैं.

वरिष्ठ और प्रभावी आदिवासी नेता होने के नाते देश के कई राज्यों में अखिल भारतीय कांग्रेेस कमेटी के पर्यवेक्षक के रूप में दौरा कर चुके मालवीया ने कहा कि प्रचार तंत्र का उपयोग कर लोगों को भ्रमित करने का प्रयास करने वाले भाजपा व उसके सहयोगियों की असलियत को जनता पहचान गई है, इसका संकेत गत दिनों हुए कई राज्यों के विधानसभा चुनावों में मिल गया है और लोकसभा चुनावों के बाद केन्द्र से भी पीएम मोदी की विदाई होगी. 

मालवीया ने कहा कि प्रचार तंत्र से जनता को भ्रमित नहीं किया जा सकता है अन्यथा शाईनिंग इण्डिया के नाम पर पहले भी काफी वातावरण बनाया गया था, परन्तु यह प्रचार विदाई में बदल गया, इसी तरह इस बार भी केन्द्र सरकार की विदाई तय है. उन्होंने कहा कि राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार बहुत अच्छा काम कर रही है और लोकसभा में पार्टी का श्रेष्ठ प्रदर्शन रहेगा. 

जनजाति क्षेत्र बांसवाड़ा-डूंगरपुर में बीटीपी के प्रदर्शन को लेकर मालवीया ने कहा कि आदिवासी, पिछड़ों और दलितों का उत्थान और कल्याण कांग्रेस ने किया है और पार्टी के पास योजनाबद्ध विकास की योजनाएं हैं. उन्होंने कहा कि टीएसपी ऐरीया में क्रियान्वित कल्याणकारी कार्यक्रम कांग्रेस की देन है और क्षेत्र के लोगों को भ्रमित करने के लिये जो अभियान चला था वो अब समापन की ओर है, जनता का विश्वास कांग्रेेस में बरकरार है और रहेगा. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।