खूबसूरती में चारचांद लगाने के लिए ज्वेलरी बेहद अहम भूमिका निभाती है उन्ही में कानों के झुमके आपके पुरे लुक को चेंज कर देते है ऐसे में अगर बातलम्बे  झुमके की करें तो यह आपको अच्छे तो लगते हैं पर इन्हें ज्यादा समय तक न पहने क्योंकि इन्हें पहनने से आपके कानों के इयरलोब को नुकसान हो सकता है. 

लगातार भारी झुमके पहनने से आपके कानों के छिद्र चौड़े हो सकते हैं और लटक सकते हैं. इसके कारण आप कोई और झुमके नहीं पहन पाती. आपको बता दें कि इयरलोब सॉफ्ट टिश्यू से बने होते हैं और लंबे समय तक अधिक वजन के झुमके पहनने से  काम ख़राब कर देते हैं. 

प्रारंभिक अवस्था में इसका एकमात्र इलाज यह है कि कुछ दिनों तक इन्हें आराम दिया जाए यानि आप झुमके ना पहनें. अगर पिर्सिंग बहुत अधिक फैले नहीं है, तो आप कुछ दिन भारी झुमके पहनने से ब्रेक ले सकते हैं. अगर छिद्र अधिक बड़े हो गए हैं, तो सर्जरी की जरूरत पड़ सकती है. जानते हैं इसके बारे में एक्सपर्ट्स क्या कहते हैं. 

डैमेज या लटकने वाले इयरलोब को लोकल एनेस्थेसिया के मदद से अत्यधिक टिशु का बनाने में मदद करता है और उसको मरम्मत करके उचित संरचनात्मक आकार देने में सहायता करता है. इयरलोब बहुत ही विज़िबल स्ट्रक्चर है, कॉसम्सिस बहुत महत्वपूर्ण है और इसलिए कम से कम निशान के साथ इसकी मरम्मत की जरूरत होती है. किसी भी तरह का निशान तीन महीने के भीतर कम हो जाता है. 

इयरलोब की मरम्मत को लोब-पेटी भी कहा जाता है और यह कॉस्मेटिक सर्जरी है. यह केवल एक दिन की प्रक्रिया है और व्यक्ति दो घंटे के बाद घर जा सकता है. बेहतर रिजल्ट के लिए इयरलोब को किसी भी दिखने वाले छिद्र के बिना मरम्मत की जाती है और सही होने के लिए छोड़ दिया जाता है. इयरलोब में तीन महीने के बाद छेद किये जाते हैं. इसके अलावा इस बात का ध्यान रखें कि इस प्रक्रिया के बाद भारी झुमके पहनने से बचें. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।