सेहत को लेकर जितनी जाकरुकता आजकल फैलाई जा रही है उतना शायद पहले कभी नहीं था. लेकिन इन सबके बावजूद लोग बीमार रहते हैं. कहा जाता है कि तांबे के बर्तन में रखा पानी पीने से सेहत सही रहती है और रोगों से लड़ने की शक्ति बढ़ती है. इसके साथ ही बहुत से लोग तांबे के बर्तन में भोजन करना भी पसंद करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि तांबे के बर्तन में रखे कुछ खाद्य पदार्थ को खाने से सेहत को नुकसान पहुंचता है. आइए जानें कौन से खाद्य पदार्थ हैं जिसे नहीं तांबे के बर्तन में न रखना चाहिए और न ही खाना चाहिए.

अचार

तांबे के बर्तन में अचार रखने से तांबे के साथ मिलकर अचार जहरीला हो जाता है. इसको खाने से पेट में जलन, एसीडिटी और अपच जैसी समस्याएं पैदा हो जाती हैं. अगर तांबे के बर्तन में अचार रखा जाए तो वह जल्दी ही खराब भी हो जाता है. इसीलिए अचार वगैरह खट्टी चीज को चीनी मिट्टी के बर्तन में रखा जाता है.

दही

दही में पेट को ठीक करने वाले बैक्टीरिया लैक्टोबेसिलस पाए जाते हैं. लेकिन अगर इसको तांबे के बर्तन में जमा दिया जाए तो ये अपने स्वभाव के उलट परिणाम दिखाने लगती है. दूध या दूध से बने किसी भी पदार्थ को तांबे के बर्तन में रखने पर उसके सभी पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं. अगर तांबे के बर्तन में दूध से बने पदार्थ को खा लिया जाए तो उल्टी, डायरिया या पेट से जुड़ी परेशानी हो जाती है.

नींबू का रस

तांबे के जग में पानी पीना तो सेहत के लिए सही है लेकिन अगर इस जग में नींबू का शर्बत या शिकंजी पीते हैं तो ये बहुत नुकसानदेह होता है. नींबू में मौजूद प्राकृतिक साइट्रिक एसिड तांबे के साथ मिलकर सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।