नई दिल्ली. देश की बिगड़ती अर्थव्यवस्था के बीच मोदी सरकार पर विपक्ष चौतरफा हमला कर रहा है. इसके बचाव में लगातार सरकार में मौजूद मंत्रियों के बयान आ रहे हैं. शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी पर तंज कसा था. इस पर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि नोबेल पाने वाले ने इमानदारी से काम करते हुए नोबेल हासिल कर लिया है. देश की अर्थव्यवस्था गर्त में जा रही है, वहीं दूसरी ओर भाजपा कॉमेडी सर्कस चला रही है. बता दें कि नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी ने भारत की बिगड़ रही अर्थव्यवस्था पर चिंता जताई थी.

प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा कि भाजपा नेताओं को जो काम मिला है उसको करने की बजाय दूसरों की उपलब्धियों को झुठलाने में लगे हैं. नोबेल पाने वाले ने अपना काम ईमानदारी से किया, नोबेल जीता. अर्थव्यवस्था ढही जा रही है. आपका काम उसको सुधारना है न कि कॉमेडी सर्कस चलाना.

अभिजीत बनर्जी ने कही थी यह बात

नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी ने कहा था कि भारतीय अर्थव्यवस्था बिगड़ रही है. फिलहाल इसमें सुधार की उम्मीद भी कम है. आर्थिक विकास के हाल के आंकड़ों पर नजर डाले तो फिलहाल इसमें सुधार की गुजाइश भी कम नजर आ रही है. पिछले 5-6 साल में विकास के जो संकेत मिले थे, अब निवेशकों को वैसा भरोसा नहीं रहा.

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने यह कहा था

भारतीय अर्थव्यवस्था में गिरावट आने और आर्थिक मंदी को लेकर अभिजीत बनर्जी द्वारा चिंता जताए जाने के बाद केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने बनर्जी पर तंज कसा था. उन्होंने कहा था कि उन्हें जो नोबेल प्राइज मिला मैं उनको बधाई देता हूं. लेकिन उनकी समझ के बारे में तो आप सभी जानते हैं. उनकी जो सोच है, वो पूरी तरह से वामपंथ से प्रेरित है. उन्होंने न्याय योजना के बड़े गुणगान किए थे, भारत की जनता ने योजना को पूरी तरह से नकारकर उनकी सोच को खारिज कर दिया.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।