मुंबई. महाराष्ट्र में सरकार गठन होगा या नहीं, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है. इस बीच शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के निवास स्थल मातोश्री में पार्टी के विधायकों की बैठक खत्म हो चुकी है. शिवसेना के तमाम विधायकों को अब एक फाइव-स्टार होटल में शिफ्ट किया गया है. ये विधायक रंग शारदा होटल में भेजे गए हैं.

गौरतलब है कि इससे पहले शिवसेना की तरफ से डर जाहिर किया गया था कि बीजेपी उसके विधायकों की खरीद-फरोख्त कर सकती है. हालांकि, गुरुवार सुबह ही शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा था कि उनकी पार्टी के विधायक डंटे हुए हैं और डरना उन्हें चाहिए जो ऐसी अफवाह फैला रहे हैं.

वहीं, बीजेपी नेता पार्टी के नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि बीजेपी अल्पमत की सरकार नहीं बनाएगी. इस पर पूरी बातचीत की जाएगी. इस दौरान नीतिन गडकरी के सीएम बनने की चर्चा पर भी उन्होंने कहा कि वह राज्य की राजनीति में नहीं आएंगे. वहीं, इस दौरान ख़बर है कि शिवसेना के सांसद संजय राउत ने एक बार फिर कहा है कि किसी भी हालत में महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री शिवसेना से ही बनने जा रहा है.

 सूत्रों के अनुसार, इस बैठक में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे  ने एनसीपी-कांग्रेस के सहयोग से सरकार बनाने की संभावनाओं की लाभ-हानि पर विधायकों से चर्चा की. उद्धव ठाकरे से बैठक के बाद मीडिया से एक शिवसेना विधायक ने कहा है कि जो फैसला उद्धव ठाकरे लेंगे, हमें वही मंजूर होगा.

उन्होंने कहा कि हमें तोड़ने का दम किसी माई के लाल में नहीं है. कोई हमें नहीं तोड़ सकता.बैठक के बाद शिवसेना के सभी विधायकों को होटल ले जाया जा रहा है. बताया जा रहा है कि सभी विधायकों को रंगशारदा होटल लेकर जाया जा रहा है. वहीं शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने आज फिर कहा कि महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा. 

महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल और सुधीर मुनगंटीवार मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मिलने पहुंचे हैं. फडणवीस से मिलने के बाद चंद्रकांत पाटिल और सुधीर मुनगंटीवार राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी से मिलने जाएंगे. हालांकि मुनगंटीवार ने साफ कर दिया है कि बीजेपी आज सरकार बनाने का दावा पेश नहीं करेगी.. 

भाजपा अल्पमत सरकार बनाने के खिलाफ

महाराष्ट्र के वित्त मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार ने बृहस्पतिवार को कहा कि उनकी पार्टी राज्य में अल्पमत सरकार बनाने के पक्ष में नहीं है. राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के साथ भाजपा प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात से पहले यहां संवाददाताओं से मुनगंटीवार ने कहा कि किसी भी दल को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व एवं स्वीकार्यता को लेकर कोई संदेह नहीं होना चाहिए.

मुनगंटीवार ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल की अगुवाई में भाजपा प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से मुलाकात करने जा रहा है और नौ नवंबर को मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल खत्म होने के बाद भाजपा के रुख के बारे में उन्हें सूचित करेगा.

मुख्यमंत्री पद साझा करने की शिवसेना की जिद पर मुनगंटीवार ने कहा, फडणवीस सिर्फ भाजपा नेता नहीं हैं, बल्कि उन्हें शिवसेना के मुख्यमंत्री के तौर पर भी देखा जाना चाहिए. मुनगंटीवार ने उन अफवाहों को भी नकार दिया कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को राज्य का मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है. 

इधर, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने साफ किया कि देवेंद्र फडणवीस ही महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री होंगे. उन्होंने कहा कि जिस पार्टी के ज्यादा विधायक होते हैं मुख्यमंत्री उसी का होता है. भाजपा के पास राज्य में 105 विधायक हैं. इसलिए यह साफ है कि मुख्यमंत्री भाजपा का ही होगा. 

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ का महाराष्ट्र सरकार गठन से कोई संबंध नहीं है. उन्होंने खुद के महाराष्ट्र की राजनीति में वापसी को लेकर चल रहे खबरों पर कहा कि वह केंद्र में ही बने रहेंगे.  महाराष्ट्र वापस जाने का कोई सवाल ही नहीं है.

बता दें कि बीजेपी के नेता आज राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात करेंगे. बीजेपी नेता राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश कर सकते हैं. बुधवार को बीजेपी विधायक सुधीर मुनगंटीवार ने कहा था कि जल्दी ही लोगों को खुशखबरी सुनने को मिलेगी. बीजेपी ने खुशखबरी सुनाने की बात तो कह दी, लेकिन आंकड़ों का ब्यौरा नहीं दिया.

खबर है कि शिवसेना को अपने विधायकों के टूटने का डर सता रहा है.पार्टी विधायकों के साथ बैठक के बाद शिवसेना अपने विधायकों को फाइव स्टार होटल में ठहरा सकती है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।