नई दिल्ली. पाकिस्तान में करतारपुर कॉरिडोर के उद्धाटन समारोह में शामिल होने के लिए कांग्रेस के नेता और पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को अनुमति मिल गई है. सिद्धू ने गुरुवार को भी करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के लिए विदेश मंत्री एस जयशंकर से इजाजत मांगी थी. उन्होंने तीसरी बार विदेश मंत्री को खत लिखा है. इससे पहले वह एस जयशंकर और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर से इजाजत मांगी थी.

9 नवंबर को पाकिस्तान में स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारे का उद्धाटन होने वाला है. इस समारोह में शामिल होने के लिए कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने सरकार से इजाजत मांगी थी. सूत्रों का कहना है कि सरकार ने पाकिस्तान की इस यात्रा के लिए उन्हें राजनीतिक मंजूरी दे दी है. हालांकि, इससे पहले ही मोदी सरकार भारत के कुछ वीवीआईपी को पाकिस्तान भेज रही है, जिसमें मनमोहन सिंह समेत कई मंत्री सांसद शामिल हैं.

बता दें कि करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के संबंध में सिद्धू ने दोनों नेताओं को फिर से चिट्ठी लिखी है. सिद्धू पाकिस्तान में करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल होना चाहते हैं. उन्होंने विदेश मंत्री एस जयशंकर को लिखे तीसरे पत्र में कहा कि अगर उन्हें करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के लिए सरकार की ओर से इजाजत नहीं मिलती है तो आम नागरिक की तरह वह भी नहीं जाएंगे, लेकिन अगर इस संबंध में किसी तरह का कोई जवाब नहीं आता है तो वह पाक चले जाएंगे. 

सरकार के सूत्र के मुताबिक, गणमान्य व्यक्ति तीर्थयात्रियों के रूप में भारत से एक जत्थे में शामिल होकर करतारपुर कॉरिडोर जाएगा. इस जत्थे में पंजाब के पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पंजाब के सीएम और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत बादल और हरदीप पुरी और 150 सांसद शामिल होंगे. पाकिस्तान ने उद्घाटन समारोह में इस लोगों को शामिल होने का अनुरोध किया था.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।