हरिद्वार. हरिद्वार जिले में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे सुनकर किसी की भी रूह कांप उठे. यहां एक बहन ने अपने मासूम भाई को केवल इसलिए मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि मां-बाप के काम पर जाने के बाद उसे भाई का ध्यान रखना पड़ता था. शुक्रवार सुबह घर से गायब दो साल के मासूम पूरब को लेकर पुलिस ने सोमवार को खुलासा किया.

पुलिस के मुताबिक, मां-बाप के काम पर चले जाने के बाद मासूम भाई की परवरिश बहन को ही करनी पड़ती थी, जिससे परेशान होकर उसने अपने भाई की हत्या कर दी. पुलिस की ओर से पूछताछ में आरोपी नाबालिग बहन ने बताया कि पहले उसने मासूम को दूध में नशीली गोलियां मिलाकर बेहोश किया और फिर गंगनहर में फेंक दिया.

ज्वालापुर क्षेत्र की लोधामंडी बस्ती में घर के अंदर सो रहा दो साल का मासूम शुक्रवार को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया था. पेशे से पंक्चर की दुकान चलाने वाला सोनू लोधामंडी में अपने परिवार के साथ रहता है. शुक्रवार की सुबह करीब पांच बजे जब उसकी पत्नी जमुना देवी की आंख खुली तब अपने दो साल के मासूम बेटे पूरब को गायब पाया.

महिला ने बेटे को गायब देखकर शोर मचाया. दंपती सीधे अपने परिचितों के साथ रेल चौकी पहुंचे. दो साल के मासूम के गायब होने की खबर मिलने पर पुलिस के होश फाख्ता हो गए. कोतवाली प्रभारी योगेश सिंह देव और रेल चौकी प्रभारी सुनील रावत घटनास्थल पर पहुंचे. पुलिस ने दंपती से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली थी. पुलिस की ओर से पूछताछ करने पर बहन ने सच्चाई का खुलासा किया तो परिवार के साथ पुलिस भी हैरान रह गई.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।