कम से कम समय में अधिक से अधिक लाभ उठाने की सोच रहे हैं? ऐसा करने वाले आप अकेले नहीं हैं. झटपट लाभ उठाने की  चाहत कोई अपराध नहीं है. इसका सबसे अच्छा तरीका है एक निजी ट्रेनर रखना, जो आपका मार्गदर्शन व देखरेख कर सकता है, ताकि आप वह चुस्ती-दुरुस्ती बनाए रखें, जो शरीर के लिए बहुत जरूरी है. शरीर को फिट रखने के लिए वेट ट्रेनिंग भी एक कारगर उपाय है. महिलाओं के लिए वेट ट्रेनिंग के प्रमुख लाभों के बारे में बता रही हैं अल्टीमेट परफॉर्मेंस की प्रबंध निदेशक रिद्धि शर्मा :

वजन रहेगा नियंत्रित-

ज्यादातर महिलाओं को लगता है कि वेट ट्रेनिंग सिर्फ पुरुषों की चीज है. लेकिन यह सच नहीं है. वेट ट्रेनिंग न सिर्फ महिलाओं को शारीरिक रूप से शक्तिशाली बनाने में मदद करती है, बल्कि यह उनके लिए अपने संपूर्ण स्वास्थ्य को बेहतर बनाने का भी सबसे अच्छा तरीका है. इसके जरिये वे अपने शरीर की वसा और वजन को बेहतर ढंग से नियंत्रित रख सकती हैं, ताकि उनके शरीर का आकार ठीक रहे.

शरीर बनेगा सुडौल-

अधिकतर महिलाएं शरीर से वसा कम करने के लिए बुनियादी रूप से कार्डियो पर खास तौर से ध्यान देती हैं. यह वजन कम करने का एक उपयोगी तरीका है. लेकिन वेट ट्रेनिंग कहीं अधिक सटीक और प्रभावी तरीका है. कार्डियो केवल कैलोरी जलाता है, जबकि वेट ट्रेनिंग कैलोरी जलाने के साथ-साथ मांसपेशी ऊतकों का निर्माण भी करता है, जिससे चयापचय की दर बढ़ती है और आपकाशरीर सुडौल बना रहता है.  

आएगा छरहरापन और मजबूती-

वजन नियंत्रित करने से संबंधित प्रशिक्षण किसी भी महिला को उसकी मुद्रा (पॉस्चर) सही बनाए रखने में सहायक है. यह मुद्रा में सुधार करने का सबसे अच्छा तरीका है. छरहरा और मजबूत होने पर व्यक्ति अच्छा दिखता है और कपड़े उसको बिल्कुल फिट आते हैं. यह स्थिति उसके महसूस करने के तरीके पर सकारात्मक प्रभाव डालती है.

मिलेगी मानसिक ताजगी-

जेएएमए साइकाइट्री में प्रकाशित यूनिवर्सिटी ऑफ लिमरिक के वर्ष  2018 के एक अध्ययन से पता चला है कि स्ट्रेंथ ट्रेनिंग से अवसादग्रस्तता के लक्षणों को दूर करने में मदद मिली. इनमें उतरा हुआ मिजाज, व्यर्थता की भावना और कामकाज के प्रति अरुचि जैसे लक्षण शामिल थे.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।