नई दिल्ली. रेलवे बोर्ड/मुख्यालय द्वारा आज 25 मार्च बुधवार को लिए गए निर्णय के अनुसार भारतीय रेल पर चलने वाली सभी यात्री ट्रेनों के बंद रहने की अवधि 14 अप्रैल 2020 की रात्रि 12.00 बजे तक बढ़ा दी है.

इसके अंतर्गत सभी मेल एक्सप्रेस गाडिय़ां (जिसमें प्रीमियम ट्रेनें भी शामिल हैं) और सभी पैसेंजर गाडिय़ां, सभी सबरबन ट्रैन और  मेट्रो ट्रैन कोलकाता 14 अप्रैल 2020 की रात 12.00 बजे तक बंद रहेंगी.

परिचालन रेल कर्मियों का ड्यूटी रोस्टर बनाया गया

कोरोना वायरस के प्रभाव एवं संक्रमण को रोकने हेतु रेलवे बोर्ड के आदेशानुसार सभी यात्री गाडिय़ाँ  31 मार्च 2020, रात्रि 24.00 बजे तक निरस्त की गई हैं, लेकिन समाज के लिए जरूरी सामान जैसे खाद्यान्न, कोयला, पीओएल, दूध, सब्जियां आदि की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए मालगाडिय़ों का परिचालन निर्बाध रूप से जारी है.      

मालगाडिय़ों के सुचारू परिचालन के लिए परिचालन  के जरूरी कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है. इन कर्मचारियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ड्यूटी रोस्टर बनाया गया है. जिसके अनुसार पूरे भोपाल मण्डल में स्टेशन मास्टर एवं पॉइंट्स मैन का 12 घण्टे का ड्यूटी रोस्टर बनाया गया है. जिसमें एक स्टेशन मास्टर और एक पॉइंट्स मैन का ग्रुप (कॉम्बिनेशन) बनाया गया है. हर ग्रुप के कर्मचारी अपने निर्धारित रोस्टर में ही ड्यूटी करेंगे, ताकि उनका अन्य दूसरे रोस्टर के कर्मचारियों से मेल ना हो.

लोको पायलेट की भी ड्यूटी बदली

इसी प्रकार लोको पायलट्स एवं गार्ड्स की ड्यूटी भी इस प्रकार से लगाई गई है कि अपनी ड्यूटी करते हुए मुख्यालय आने पर उन्हें रंनिंग रूम में रुकने की जरूरत यथासम्भव ना पड़े और वह शीग्रातिशीघ्र अपने निवास स्थान पहुंच जाएं. इसके अतिरिक्क्त मण्डल कंट्रोल आफिस, जहां से समस्त गाडिय़ों का संचालन सुनिश्चित किया जाता है, उनके सभी कंट्रोलर के कार्य समय में संशोधन किये गए हैं, ताकि अधिक से अधिक कर्मचारी घर पर रह सकें.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।