नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चक्रवात अम्फान से उत्पन्न हुई स्थिति का जायजा लेने के लिए शुक्रवार 22 मई को पश्चिम बंगाल पहुंचे. यहां उन्होंने राज्य के प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया. इस दौरान उनके साथ सीएम ममता बनर्जी भी थीं. इसके बाद उन्होंने सीएम व अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और राज्य की सहायता के लिए एक हजार करोड़ रुपये देने की घोषणा की. प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार अम्फान से प्रभावित हुए लोगों के साथ है.

बशीरहाट में प्रधानमंत्री ने कहा, अम्फान के मद्देनजर पश्चिम बंगाल की तत्काल सहायता के लिए केंद्र सरकार 1000 करोड़ रुपये आवंटित करती है. मैं पश्चिम बंगाल के मेरे भाइयों और बहनों को विश्वास दिलाता हूं कि इस कठिन समय में पूरा देश आपके साथ खड़ा है. अम्फान के कारण हुए नुकसान और प्रभावित क्षेत्रों की वर्तमान स्थिति को लेकर विस्तृत सर्वेक्षण करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक टीम भेजी जाएगी. 

उन्होंने कहा, पुनर्वास और पुनर्निर्माण से संबंधित सभी पहलुओं पर ध्यान दिया जाएगा. हम सभी चाहते हैं कि बंगाल आगे बढ़े. पश्चिम बंगाल में अम्फान चक्रवात के कारण मरने वालों के परिजनों को दो लाख रुपये और गंभीर रूप से घायल हुए प्रत्येक व्यक्ति को 50 हजार रुपये दिए जाएंगे. 

प्रधानमंत्री ने कहा कि मई के महीने में देश चुनावों में व्यस्त था और उस समय हमें एक चक्रवात का सामना करना पड़ा, जिसने ओडिशा को नुकसान पहुंचाया. अब एक साल के बाद इस चक्रवात (अम्फान) ने हमारे तटीय क्षेत्रों को प्रभावित किया है. पश्चिम बंगाल के लोग इससे सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं. कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए जहां सामाजिक दूरी की आवश्यकता होती है वहीं अम्फान चक्रवात से बचाव के लिए लोगों को सुरक्षित क्षेत्रों में जाने की जरूरत है. इन विरोधाभासों के बावजूद, ममता जी के नेतृत्व में पश्चिम बंगाल इससे अच्छी तरह लड़ रहा है. हम इस प्रतिकूल समय में उनके साथ हैं.

पश्चिम बंगाल में 80 लोगों की मौत

चक्रवाती तूफान अम्फान की वजह से पश्चिम बंगाल में मरने वालों की संख्या 80 हो गई है. इस बात की जानकारी आज मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दी.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।