पटना. बिहार में पटना जिले के मोकामा में पंचायत का रोंगटे खड़े कर देने वाला तुगलकी फरमान का मामला सामने आया है. पंचायत के द्वारा दुष्कर्म के बाद गर्भवती हुई नाबालिग लड़की को गर्भपात (अबार्शन) कराने का फैसला सुनाया गया है. इसके बाद पंचायत के फैसले पर अमल करते हुए लड़की ने गर्भपात भी करवा लिया, लेकिन इसके बाद दुष्कर्म का आरोपी अपने वादे से मुकर गया. 

प्राप्त जानकारी के अनुसार मोकामा थाना क्षेत्र अवस्थित एक गांव की नाबालिग लड़की के साथ गांव के ही एक दरिंदे ने दुष्कर्म किया. इसके बाद लड़की गर्भवती हो गई. लेकिन उसके परिवार वालों ने प्राथमिकी दर्ज कराने के बजाये गांव में पंचायत का सहारा लिया. मामला जब पंचायत के लिए आया तो गांव के पंचों ने पीडि़ता को गर्भपात करने का फैसला सुना दिया. पंचायत के आरोपी के परिजनों को लड़की के शादी का पूरा खर्च उठाने का निर्देश दिया था.

वहीं, पंचायत के फैसले के बाद लड़की का का गर्भपात करा दिया गया. लेकिन आरोपी ने लड़की के शादी का खर्च देने से इंकार कर दिया. इसके बाद दोबारा पंचायत बैठाई गई, लेकिन पंचों की बात मानने से भी आरोपी ने इंकार कर दिया. इसके बाद लड़की के परिजनों के द्वारा मोकामा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. आरोपी रणधीर राय को नामजद अभियुक्त बनाया गया है. 

बताया जाता है कि 6 महीने पहले ही इस घटना को अंजाम दिया गया है. मामले का आरोपी फरार है. मोकामा थानाध्यक्ष की मानें तो आरोपी की तलाश में छापेमारी की जा रही है और बहुत जल्द उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा. 16 साल की लडकी के साथ घिनौनी हरकत करने वाले आरोपी को लेकर गांव में भी नाराजगी का माहौल है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।