दुबई चेंबर ऑफ़ कॉमर्स के एक सर्वे के अनुसार दुबई के तकरीबन 70 प्रतिशत बिजनेस अगले छह महीने में कोरोना वायरस महामारी की वजह से बंद हो सकते हैं.

गुरुवार शाम को इस सर्वे का नतीजा जारी किया गया है. इसमें कहा गया है कि ‘दुबई की 90 प्रतिशत से अधिक कंपनियों के मुताबिक़ 2020 की पहली तिमाही में उनकी सेल और टर्नओवर में भारी गिरावट दर्ज की गई है.’

दुबई चेंबर ऑफ़ कॉमर्स के अनुसार महामारी की वजह से हुई वैश्विक आर्थिक सुस्ती का सबसे ज़्यादा असर छोटे और मझौले उद्योगों पर पड़ा है.

पर्यटन क्षेत्र से जुड़ी अधिकांश कंपनियों, रियल एस्टेट की आधे से ज़्यादा कंपनियों, होटल-रेस्त्रां मालिकों समेत रिटेल उद्योंगों से जुड़े लोगों का कहना है कि उनके काम में 70 प्रतिशत की गिरावट आ चुकी है और दूसरी तिमाही के नतीजे और भी भयानक होंगे.

सर्वे में शामिल हुईं 48 प्रतिशत कंपनियों ने कहा है कि उनके पास इस महामारी से पार पाने का कोई तैयार प्लान नहीं है.

हालांकि इन कंपनियों ने यह भी कहा कि कोविड-19 के प्रकोप को सीमित करने के लिए उन्होंने कुछ उपाय किए हैं ताकि उनके मुलाज़िमों पर इसका कम असर पड़े.

दुबई स्थित कंपनियों पर कोरोना वायरस महामारी के असर को कम करने के लिए क्या किया जा सकता है, इस बारे में दुबई चेंबर ऑफ़ कॉमर्स ने कुछ सुझाव भी दिए हैं.

संस्था ने कहा है कि कंपनियों को क़ानूनी कार्यवाहियों से राहत मिलनी चाहिए, किराये में कुछ रियायत मिलनी चाहिए, उससे जुड़े सरकारी ख़र्चों में कुछ कमी की जानी चाहिए, साथ ही सरकारी फ़ीस माफ़ी के अलावा इन्हें फ़ाइनेंस मुहैया कराने की ज़रूरत है.

संयुक्त अरब अमीरात में गुरुवार को कोविड-19 की वजह से चार और लोगों की मौत हुई है.

स्थानीय स्वास्थ्य विभाग के अनुसार बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 892 नए मामले भी सामने आए हैं जिन्हें मिलाकर अब तक संक्रमण के क़रीब 27 हज़ार मामलों की पुष्टि हो चुकी है.

-BBC

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।