रायपुर. पूर्व केंद्रीय मंत्री विष्णुदेव साय छत्तीसगढ़ भाजपा का नया चेहरे होंगे. पार्टी नेताओं से चर्चा के बाद मंगलवार को प्रदेश अध्यक्ष पद पर उनके नाम की मुहर लगा दी गई. राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की सहमति के बाद दिल्ली में राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने उनके नाम का ऐलान किया है. पूर्व सांसद साय को केंद्रीय संगठन और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का करीबी माना जाता है. उनकी नियुक्ति अगले विधानसभा चुनावों तक के लिए की गई है. 

साय पहले भी प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं. यह उनका तीसरा कार्यकाल होगा. इससे पहले 2006 से 2009 और फिर 2013 तक पार्टी की कमान उनके हाथ में रही. 1999 से 2014 तक रायगढ़ से सांसद रहे. मोदी-1.0 में केंद्र में मंत्री बनाए जाने के बाद उन्होंने संगठन पद से इस्तीफा दे दिया था. साय को संगठन के साथ ही आरएसएस का भी करीबी माना जाता है. 

आदिवासी अध्यक्ष बनाने पर बनी सहमति

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी किसी आदिवासी नेता को भी सौंपे जाने की संभावनाएं शुरू से ज्यादा थीं. इसके पीछे तर्क यह है कि नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी ओबीसी वर्ग को दी गई है. वहीं, कांग्रेस ने प्रदेश संगठन की जिम्मेदारी एसटी को सौंपी है. राज्य में अब तक ज्यादातर ऐसा ही होता आया है कि दोनों दलों का नेतृत्व एक ही वर्ग के पास रहा है. इससे पहले दोनों दलों की कमान ओबीसी के पास थी.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।