लखनऊ. पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से दोनों देशों के बीच हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं. चीन के साथ जारी तनाव के बीच बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने एक बार फिर केंद्र सरकार का पक्ष लिया है.

मायावती ने कहा कि चीन का मसला गंभीर है, लेकिन भाजपा-कांग्रेस राजनीति में लगी हुई है, ये बिल्कुल ठीक नहीं है. मायावती ने कहा कि इस राजनीतिक लड़ाई का चीन भी फायदा उठा सकता है और इसका देश की जनता को नुकसान हो रहा है. मायावती ने कहा कि देशहित के मसले पर बसपा केंद्र के साथ है, चाहे केंद्र में किसी की भी सरकार हो.

इससे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने साफ कहा कि चीन के खिलाफ किसी भी एक्शन में विपक्ष को सरकार के साथ रहना चाहिए. सरकार व विपक्ष को मिलकर चीन को सबक सिखाना चाहिए. मायावती ने कहा कि चीन के साथ जारी गतिरोध के मसले पर सरकार और विपक्ष को एकजुट होने तथा देशहित और सीमा की रक्षा का काम सरकार पर छोड़ देना चाहिए.

मायावती ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि अभी हाल ही में 15 जून को लद्दाख में चीनी सेना के साथ संघर्ष में कर्नल सहित 20 सैन्यकर्मियों की मौत से पूरा देश काफी दु:खी, चिन्तित व आक्रोशित है. इसके निदान के लिए सरकार और विपक्ष दोनों को पूरी परिपक्वता तथा एकजुटता के साथ काम करना है. मायावती ने कहा है कि अच्छी बात है कि सरकार की कमियों को भुलाकर ऐसे नाजुक समय में पूरा देश एकजुट है. अब सरकार को जनता की उम्मीद पर खरा उतरना है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।