काबुल. अफगानिस्तान के हेलमंद प्रांत के एक व्यस्त बाजार में सोमवार को कार बम विस्फोट और मोर्टार हमले में बच्चों सहित कम से कम 23 लोगों की मौत हो गयी. तालिबान और अफगान सेना दोनों संगिन जिले में हुयी इस घटना के लिए एक-दूसरे को दोषी ठहरा रहे हैं. तालिबान ने दावा किया कि सैनिकों ने बाजार में मोर्टार दागे, वहीं सेना का कहना है कि विद्रोहियों ने नागरिकों को निशाना बनाकर मोर्टार के गोले दागे और एक कार बम विस्फोट किया.

दक्षिणी अफगानिस्तान में प्रांतीय गवर्नर के कार्यालय के एक बयान में कहा गया है कि दक्षिणी हेलमंद प्रांत के एक व्यस्त बाजार में कार बम और मोर्टार हमले में बच्चों सहित कम से कम 23 नागिरक मारे गए हैं. संगिन जिले में सोमवार को हुए हमले के लिए तालिबान और अफगान सेना एक-दूसरे को दोषी ठहरा रहे हैं.

तालिबान ने दावा किया कि सेना ने बाजार में मोर्टार दागे, जबकि सेना का कहना है कि विद्रोहियों द्वारा दागे गए कार बम और मोर्टार के गोलों ने नागरिकों को निशाना बनाया. सेना का कहना है कि सोमवार को क्षेत्र में कोई सैन्य गतिविधियां नहीं थी और जब बाजार में कार बम विस्फोट हुआ था, तो तालिबान के दो लड़ाके भी मारे गए थे.

गौरतलब है कि अफगानिस्तान सरकार ने तालिबान समूह के खिलाफ सैन्य अभियान तेज कर दिया है. इस अभियान में 24 घंटों में देश भर में 10 नागरिकों समेत 70 से अधिक लोग मारे गए हैं. तालिबान और अफगान सरकार के इस ताजा संघर्ष से अमेरिका और तालिबान के बीच हुए शांति समझौते को गहरा धक्का लगा है. हालांकि अभी तक इस पर अमेरिका की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. खास बात यह है कि इस सैन्य अभियान में बड़ी तादाद में तालिबान आतंकवादी मारे गए, लेकिन तालिबान के हाथों निर्दोष नागरिक भी शिकार हुए हैं. मरने वालों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।