जबलपुर. कोरोना वायरस का असर स्वास्थ्य के साथ-साथ लोगों की रोजी-रोटी पर भी जबर्दस्त पड़ा है. इस मामले में रेलवे एक कदम आगे आते हुए आदेश जारी किया है, जिसमें स्पष्ट किया गया है कि अगले आदेश तक रेलवे में नई भर्ती पर पूरी तरह रोक लगी रहेगी, वहीं जो पद हैं, उसमें से 50 फीसदी पदों को सरेंडर भी किया जाएगा.

इस संबंध में रेलवे बोर्ड ने गुरूवार 2 जुलाई को एक आदेश जारी किया है, जिसमें उसने कहा है कि नए पदों पर अगले आदेश तक कोई भर्ती नहीं की जाये. इसके अलावा सेफ्टी के पदों को छोड़कर अन्य पदों को 50 फीसदी तक सरेंडर किया जाए, साथ ही पिछले दो सालों में जितने भी पदों को क्रियेट किया गया, उसे फिर से रिव्यू किया जाए. रेलवे बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि उक्त आदेश को नहीं मानने पर कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जायेगी.

यह है कड़े निर्णय लेने का कारण

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 के कारण लॉकडाउन अभी भी चल रहा है, जिसमें रेलवे की अधिकांश यात्री ट्रेनों का संचालन बंद पड़ा है. दो सौ ट्रेनों को स्पेशल ट्रेनों व कुछ अन्य विशेष ट्रेनें चल रही हैं. जिससे रेलवे को कोई खास लाभ नहीं हो रहा है. मालगाडिय़ां जरूर अपनी पूरी क्षमता से चल रही हैं, लेकिन वह भी रेलवे का घाटा पाटने में असमर्थ है. यही कारण है कि रेलवे बोर्ड ने उक्त आदेश जारी कर कड़े वित्तीय अनुशासन का पालन करने को कहा है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।