जबलपुर. अनैतिक संबंधों की आग में एक बार फिर एक परिवार जलकर स्वाहा हो गया. दो लोगों ने अपनी जान गंवाई और आरोपी बड़ा भाई सलाखों के पीछे पहुंच गया. विगत 30 जून को माढ़ोताल थाना के आगासौद में एक दिव्यांग पिता और उसकी 4 वर्षीय बच्ची की निर्मम हत्या कर दी गई थी. पुलिस का कहना है कि आरोपी की पत्नी के अपने ही छोटे भाई से अनैतिक संबंध थे. जिसका उसे पता चल गया और उसने उसकी हत्या का इरादा कर लिया, किंतु जब वह हत्या करने पहुंचा तब आरोपी के भाई की बगल में उसकी बच्ची भी थी.जो आरोपी को पहचानती थी. भेद खुलने के डर से उसने बच्ची की भी हत्या कर दी.

थाना माढेाताल में 30 जून को सुबह लगभग 7 बजे ग्राम आगासौद में पिता एवं बेटी की हत्या कर दिये जाने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने देखा कि कमरे के अंदर एक व्यक्ति एवं 4 वर्षिय बच्ची मृत पड़ी हुई थी जिनके गले में धारदार हथियार की चोट थी.  ग्राम आगासौद के पैंसठ वर्षीय कोटवार नत्थूलाल दाहिया ने बताया कि सुबह लगभग 7 बजे गांव के अरूण गौड ने आकर सूचना दी कि सुशील गौड और उसकी बेटी संजना गौड घर के अंदर मृत पड़े हैं. जाकर देखा तो पैंतीस वर्षीय सुशील गौड और उसकी चार वर्ष की मासूम बेटी संजना गौड मृत पड़े हुये मिले. किसी अज्ञात व्यक्ति ने कमरे में घुसकर  धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी है.

पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा दिव्यांग पिता एवं बेटी की गला रेतकर  की गयी नृशंस हत्या के अज्ञात आरोपी की पतासाजी एवं गिरफ्तारी पर 10,000 रुपये के नगद पुरूस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की गयी. आदेश के परिपालन में अति. पुलिस अधीक्षक शहर (दक्षिण) डॉ. सजीव उइके एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध गोपाल प्रसाद खाण्डेल तथा नगर पुलिस अधीक्षक गढ़ा रोहित काशवानी (भा.पु.से.) के मार्ग निर्देशन में थाना प्रभारी माढोताल अनिल गुप्ता के नेतृत्व में थाना माढेाताल स्टाफ एवं क्राईम ब्रांच की टीम गठित की गयी.

प्रारम्भिक पूछताछ पर ज्ञात हुआ कि मृतक तीन भाई है, सभी आस पास सपरिवार रहते है. मृतक एवं मृतक की पत्नि दिव्यांग हैं, मृतक की पत्नि अपनी ननद की बेटी की शादी में ग्राम टिकारी तेन्दूखेडा जिला दमोह गयी हुई थी. जो सूचना मिलने पर सुबह ही पहुंची थी.

पत्नी से अवैध संबंध के कारण की थी हत्या

विवेचना के बाद निर्मित हुई परिस्थितियों के आधार पर मृतक के परिजनों से सख्ती से पूछताछ की गई. पूछताछ पर मृतक के बड़े भाई शंकर गौड की पत्नि ने बताया कि उसके मृतक सुशील गौड के साथ अवैध संबंध थे. घटना दिनॉक को रात लगभग 9.30 बजे पति शंकर गौड ने उसे सुशील गौड़ के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था. उस वक्त उसे एवं अपने छोटे भाई सुशील गौड़ को थप्पड़ों से मारा था एवं कमरे मे जाकर सो गया था, वह भी पति के पास जाकर सो गयी थी. रात लगभग 12 बजे उसके पति कमरे में आये और बताये कि मैने दोनों को मार दिया है.

शंकर पिता रामदास गौड उम्र 50 वर्ष निवासी ग्राम आगासौद को अभिरक्षा में लेकर सघन पूछताछ की गयी, जिसमें उसने अपने छोटे भाई सुशील गौड की रात लगभग 11.45 बजे सोते समय मुंह दबाकर कुल्हाडी से गले में हमला कर हत्या की. घटना के समय भतीजी संजना जो बाजू में ही सो रही थी. भेद खुलने के डर से उसने बच्ची की भी कुल्हाडी से गले में हमला कर हत्या करना स्वीकार किया. शंकर गौड़ की निशादेही पर घटना में प्रयुक्त कुल्हाड़ी बरामद करते हुये मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है.    

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।