जबलपुर. एक तरफ तो पूरे देश में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं और केंद्र सरकार तमाम एहतियात बरतने की एडवाइजरी भी जारी कर रहा है और स्पष्ट निर्देश हैं कि किसी भी तरह की भीड़ जमा नहीं करें, किंतु लगता है पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर के मुख्यालय के जिम्मेदार इस एडवाइजरी को नजरअंदाज करने पर अड़े हुए हैं, तभी तो आगामी 18 जुलाई 2020 को पमरे प्रशासन ने LDCE-LGS (सीमित विभागीय पदोन्नति परीक्षा) आयोजित करने जा रहा है, जिसके तहत पमरे के जबलपुर, भोपाल व कोटा मंडलों में एसीएम, एओएम व एईएन के पदों के लिए यह परीक्षा आयोजित होगी और इसमें बड़ी संख्या में कर्मचारी कोरोना संक्रमण के बीच भाग लेंगे.

उल्लेखनीय है कि जबलपुर, भोपाल व कोटा में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. ऐसे संकटकाल के बीच पमरे के जिम्मेदार अधिकारियों ने विभागीय पदोन्नति परीक्षा का आयोजन कर सारे दिशा-निर्देशों को ताक पर रख दिया है. बताया जाता है कि आगामी 18 जुलाई को पमरे के जबलपुर, भोपाल व कोटा में सहायक मंडल वाणिज्य प्रबंधक (एसीएम), सहायक मंडल परिचालन प्रबंधक (एओएम) व सहायक मंडल अभियंता (एईएन) के रिक्त पदों को विभागीय पदोन्नति के माध्यम से भरने के लिए परीक्षा आयोजित करने का आदेश जारी किया है.

तीनों मंडलों में जमा होंगे दर्जनों कर्मचारी

इस परीक्षा में भाग लेेने के लिए तीनों मंडलों जबलपुर, भोपाल व कोटा मुख्यालय में दूरदराज के स्टेशनों से बड़ी संख्या में कर्मचारी भाग लेने पहुंचेंगे. ऐसी स्थिति में वे अपना बचाव संक्रमण से कैसे करेंगे, इसको लेकर कर्मचारियों में टेंशन है. दूसरी तरफ  भोपाल में पहले से ही सप्ताह के दो दिन शनिवार व रविवार को लॉकडाउन है, वहीं जबलपुर जिला प्रशासन ने भी अगले सप्ताह 18 जुलाई से सप्ताह के दो दिन शनिवार व रविवार को लॉकडाउन करने का निर्णय लिया है.

अफसरों को एक्जाम करने की आखिर इतनी जल्दबाजी क्यों..?

इस समय जब कोरोना महामारी अपने पूरे पीक पर है, इस महामारी के दौर में अचानक रेलवे के जिम्मेदार अफसरों को इस एक्जाम को कराने की आखिर इतनी जल्दबाजी क्यों है.? इसको लेकर तरह-तरह की चर्चाएं व्याप्त है. पमरे में चल रही चर्चाओं के मुताबिक यह एक्जाम जिस समय हो रही है, उस विभाग के आला अफसर या कहें विभाग प्रमुख पीसीओएम, पीसीईई व इस परीक्षा को संचालित करने वाले कार्मिक विभाग के मुखिया भी आगामी कुछ महीनों में रिटायर हो रहे हैं और वे जाते-जाते इस एक्जाम को किसी भी कीमत पर कराने पर आमादा हैं, आखिर ऐसा क्यों, यही सवाल लोगों के मन-मस्तिष्क में संदेह उत्पन्न कर रहा है.

इनका कहना....

- इस समय कोरोना महामारी का दौर जबर्दस्त है. अगले शनिवार को भी जबलपुर में लाकडाउन है, ऐसी विषम स्थिति में रेल प्रशासन को यह एक्जाम नहीं कराना चाहिए. रेल कर्मचारियों की सुरक्षा सर्वोपरि है.

- नवीन लिटोरिया, मंडल सचिव, वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन, जबलपुर.

- पमरे प्रशासन का आगामी 18 जुलाई को विभागीय पदोन्नति परीक्षा का प्रोग्राम है, यह प्रोग्राम काफी पहले ही तय किया गया है. यदि परीक्षा की तिथि के दिन लॉकडाउन रहता है तो पमरे प्रशासन तिथि परिवर्तित करने पर विचार करेगा.

-श्रीमती प्रियंका दीक्षित, सीपीआरओ, पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।