पटना. कोरोना काल में बिहार विधानसभा चुनाव के बीच लोजपा चीफ चिराग पासवान के तेवर क्यों बागी हो रहे हैं, इसका खुलासा अब हो गया है. जमुई सांसद चिराग पासवान ने यह क्लीयर कर दिया है कि एनडीए में सब कुछ ठीक नहीं है. चिराग पासवान ने एक चैनल के इंटरव्यू में बेबाक तरीके से उनके और सीएम नीतीश के बीच चल रही टसल का खुलासा किया है.

बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारियों के बीच सूबे में एलजेपी और जेडीयू के बीच चल रही तनातनी के बीच चिराग पासवान ने यह साफ कर दिया है कि सीटों के बंटवारे का फॉर्मूला पहले से तय है. चिराग पासवान की माने तो 2015 में जिस हिसाब से सीटों का बंटवारा हुआ था उसी हिसाब से इस बार भी होना चाहिए. मसलन चिराग पासवान का दावा है कि एलजेपी को बिहार विधानसभा की 42 सीटें चाहिए और इस समीकरण से एलजेपी समझौता नहीं करने वाली है.

चिराग पासवान ने इंटरव्यू में कहा कि सीटों को लेकर अब तक कोई बात नहीं हुई है. चिराग पासवान ने कहा कि सीटों के लेकर तो बात 2014 में ही हो चुकी है. उन्होंने बताया कि 2017 में जब जेडीयू, एनडीए में शामिल हुई थी, तब यह बात उठी थी कि सभी दलों को थोड़ा थोड़ा एडजस्टमेंट करना होगा. चिराग पासवान ने कहा कि उस वक्त 2019 में ही मैंने अमित शाह से कहा था ऐसे पार्टियां आती रहीं तो हमारी सीटें कम होती जाएंगी, जो हमारे लिए चिंता का विषय होगा. उन्होंने यह भी कहा कि इस पर अमित शाह ने आश्वासन दिया था कि विधानसभा में सीटों को लेकर चिंता करने की जरूरत नहीं है.

मसलन चिराग की माने तो वो 2015 में एलजेपी को जितनी सीटें मिलीं थी. 2020 में एलजेपी उतनी ही सीटों पर फाइट करना चाह रही है, लेकिन देखना होगा राजनीति किस और करवट लेती है और एनडीए में एलजेपी को कितना वेट अब मिल पाता है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।