नई दिल्ली. भारत में कई टेलिकॉम ऑपरेटर्स e-SIM सर्विस ऑफर कर रहे हैं और इस सर्विस की मदद से बिना फोन में सिम कार्ड लगाए यूजर्स कंपनी की सर्विसेज ले सकते हैं. यानी कि बिना सिम कार्ड के कॉलिंग, डेटा और मेसेजिंग पहले की तरह ही की जा सकती है. हालांकि, इस e-SIM सर्विस के नाम पर फ्रॉड भी शुरू हो गया है और हैदराबाद में चार लोगों के 21 लाख रुपये e-SIM ऐक्टिवेशन के नाम पर लुट गए.

नए-नए तरीके आजमाकर फ्रॉड करने वाले स्कैमर सबसे पहले एक सिंपल मेसेज भेजते हैं कि KYC अपडेट या पूरे डॉक्यूमेंट्स ना होने के चलते अगले 24 घंटे में सिम कार्ड ब्लॉक किया जा रहा है और इसके बाद यूजर्स को फंसा लेते हैं. मेसेज के बाद स्कैमर कस्टमर केयर बनकर कॉल करता है और फोन पर ही केवाईसी या बाकी जरूरी डॉक्यूमेंट्स कंप्लीट करने का ऑप्शन देता है, जिससे सिम कार्ड ब्लॉक ना किया जाए.

यूजर्स को एक मेसेज भेजकर उसमें दिए लिंक पर क्लिक करने और फॉर्म में पूछी गई जानकारी भरने के लिए कहा जाता है. इस दौरान स्कैमर अपनी ईमेल आईडी विक्टिम के मोबाइल नंबर के साथ रजिस्टर कर लेते हैं और यूजर से e-SIM की रिक्वेस्ट कंपनी को भेजने के लिए कहते हैं. यह रिक्वेस्ट रजिस्टर्ड ईमेल आईडी की मदद से जाती है, जो स्कैमर्स की होती है. e-SIM सर्विस ऐक्टिवेट होने के बाद जेनरेट होने वाला QR कोड फ्रॉड करने वाले के ईमेल पर पहुंच जाता है.

QR कोड स्कैन करने के बाद स्कैमर के फोन पर यूजर का नंबर ऐक्टिवेट हो जाता है और यूजर का सिम कार्ड काम करना बंद कर देता है. फ्रॉड करने वाला पहले ही फॉर्म में यूजर के बैंकिंग डीटेल्स ले चुका होता है, इस तरह फ्रॉड करना आसान हो जाता है. बैकिंग डीटेल्स की मदद से पैसे ट्रांसफर करने का प्रोसेस शुरू होता है और OTP भी स्कैमर के उस हैंडसेट पर आते हैं, जिसमें e-SIM ऐक्टिव होता है. इस तरह विक्टिम का बैंक अकाउंट खाली हो जाता है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।