बिहार एक ऐसा राज्य है जहाँ संभावनाए काफी ज्यादा है पर राजनीतिक प्रतिबद्धता के  आभाव में  बिहार आगे नही बढ़ पाया है. ग़ौरतलब है कि आज भी कई नई नई  राजनैतिक पार्टियां उभर कर सामने आ रही है और बिहार के समस्याओं का निवारण करने का दावा कर रही है पर जमीनी हक़ीक़त ये है कि इन्हें बिहार की मूल संकट के बारे में कोई जानकारी नही है, ना ही इनके पास राजनीतिक प्रतिबद्धता है बल्कि इन्हें खुद के अस्तित्व को तलाशने की जरूरत है.बिहार के मूल संकट को समझना तो इनके बस की बात है ही नही. भोली भाली जनता को बेवकूफ बनाना और अपनी जेबें भरना, बिहार की राजनैतिक पार्टियों का मकसद बन गया है.
इतने सालों से बिहार में हो रहे निरंकुश शासन से एक बात तो साफ हो गयी है कि बिहार की समस्या का निवारण वर्तमान मे बिहार की किसी भी राजनैतिक पार्टियों के पास नही है क्योंकि इन्हें पता तक नही है कि बिहार की जरूरत क्या है तथा उसका निवारण इनके पास हो,ऐसी  उम्मीद करना भी खुद के पैरों में कुल्हाड़ी मारने जैसा है.
चलिए समझने की कोशिश करते है कि बिहार की असल समस्या क्या है और इसका निवारण कैसे संभव होगा?
किसी भी राज्य या क्षेत्र  की समस्या को समझने के लिए हमे ये समझने की जरूरत है कि वहां किस चीज़ की कमी सबसे ज्यादा है? तथा अगर हम बिहार की बात करे तो यहां सबसे बड़ी समस्या बेरोज़गारी है और एंटरप्रेन्योरशिप के प्रति लोगो मे अज्ञानता. बेरोज़गारी से निवारण पाने के लिए हमे बिहार में निवेश को आकर्षित करना होगा और बिहार के युवा को एंटरप्रेन्योरशिप के प्रति प्रोतसाहित करना होगा ताकि वो भी विनिर्माण कार्य सुरु करे और अपना खुद का व्यापार चालू करें तथा बिहार को एक निवेश केंद्र बनाने में योगदान दें. इस देश को जितना मेक इन इंडिया की जरूरत है उससे कई ज्यादा मेक इन बिहार की जरूरत है. अभी के हालात में बिहार में निवेश को आकर्षित करना ही एक मात्र विकल्प है जिससे नौकरियों में इज़ाफ़ा होगा और बेरोजगारी में कमी आएगी, अगर बिहार सरकार पूर्ण रूप से इस बात से अवगत है तो आज तक निवेश के क्षेत्र  में कोई सुधार क्यों नही हुआ? इसकी जर्जर हालत का ज़िम्मेदार कौन है? इससे एक बात तो साफ है कि आज तक जितनी सरकारों ने बिहार पे शासन किया है वो पूर्ण रूप से इस दिशा मे प्रयास करने मे  विफल रही है
 और,ऐसी  सभी राजनैतिक पार्टियों का निसंकोच हमे विरोध करना चाहिए, ये बिहार की जनता के लिए बहुत घातक है तथा बिहार के विकास में सबसे बड़ा रोड़ा.
अब हम ये समझने की कोशिश करेंगे कि निवेश को बिहार में कैसे लाया जा सकता है? 
किसी भी क्षेत्र में निवेश को आकर्षित करने के लिए हमे बिज़नेस वर्ल्ड की जानकारी होनी चाहिए तथा बड़ी कंपनियों में काम करने का अनुभव हो वो भी किसी ऊंचे पद पे, इसका फायदा ये है कि ऐसे लोगों का  नेटवर्क कॉर्पोरेट जगत में बढ़िया होता है. इन्हें पता होता है कि किसी भी कंपनी के उच्च पद पर बैठे लोगों को कैसे मनाना है ताकि वो उनके राज्य में निवेश करें अगर कुछ कमी रह गयी हो तो उसे कैसे ठीक करना है. राजनीति विज्ञान में पढ़ाई कर लेने से बिहार की समस्याओं का निवारण बिल्कुल संभव नही है और न ही राजनीति में अनुभव होना इसका निवारण है अगर ऐसा होता तो बिहार को जंगल राज्य न देखना पड़ता. जरूरत इस बात की है कि इस बार जो भी पार्टी या निर्दलीय उम्मीदवार इस बात का भरोसा दिलाता है कि वो बिहार में निवेश लेके आएगा तथा उसके पास कॉर्पोरेट कंपनियों के निवेश विभाग से जुड़े रह के काफी ज्यादा काम करने का अनुभव हो, हमे वैसे उम्मीदवारों को ही अपना क़ीमती मत देना चाहिए. अब समय आ गया है कि हम बिहार के   उत्थान के लिए कार्य करे तथा निवेश लाने में सक्षम उम्मीदवार को ही अपना विकल्प चुने, कब तक हमारे मज़दूर भाई महानगरों को अपने खून से सींचते रहेंगे और अपनों के साथ घर मे रहने के लिए तरसते रहेंगे. निवेश को बिहार में लाके हम खुद के साथ साथ अपने मजदूर भाइयों को जिंदगी भर अपने परिवार के साथ रहने का तोहफा  दे सकते हैं. बहुत सींच लिया बिहारियों ने अपने खून से महानगरों को अब बारी अपने मातृभूमि की है.
 


जानिए 2020 में कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************

बॉलीवुड      कारोबार      दुनिया      खेल      इन्फो     राशिफल     मोबाइल

************************************************************************************


पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.



अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स