1) अनंत कुमार को अलविदा नहीं कहा जा सकता - ललित गर्ग - केन्द्रीय मंत्री अनन्त कुमार का अचानक अनन्त की यात्रा पर प्रस्थान करना न केवल भाजपा बल्कि भारतीय राजनीति के लिए दुखद एवं गहरा आघात है. उनका असमय देह से विदेह हो जाना सभी के लिए संसार की क्षणभंगुरता, नश्वरता, अनित्यता, अशाश्वता का बोधपाठ है. वे कुछ समय से कैंसर से पीड़ित थे. 12 नवम्बर 2018 को रात 2 बजे अचानक उनकी स्थिति बिगड़ी और उन्हें बचाया नहीं जा सका. उनका निधन एक युग की समाप्ति है. भाजपा के लिये एक बड़ा आघात है, अपूरणीय क्षति है. आज भाजपा जिस मुकाम पर है, उसे इस मुकाम पर पहुंचाने में जिन लोगों का योगदान है, उनमें अनन्त कुमार अग्रणी है. अनंत कुमार भारतीय राजनीति के जुझारू एवं जीवट वाले नेता, सामाजिक कार्यकर्ता, व्यापारी और एक सफल उद्योगपति थे. वे 11वीं, 12वीं, 13वीं और 14वीं लोकसभा चुनाव में लगातार चार बार लोकसभा चुनावों के लिए चुने गए. वे कर्नाटक में राम-जन्मभूमि के लिए अपनी आवाज उठाने और उसके हक में लड़ने वाले विशिष्ट नेताओं में से एक थे. वे भाजपा संगठन के लिए एक धरोहर थे. वर्ष 1998 में, अनंत कुमार को अटल बिहारी बाजपेयी के नेत

2) अनंत कुमार को अलविदा नहीं कहा जा सकता

3) त्यौहारों की संस्कृति का धुंधलाना

4) गुजरात में पलायन की त्रासद घटनाएं क्यों?

5) दशहरा है,शक्ति की साधना का पर्व 

6) मी टू की आवाज को सुनें

7) विवादित बयानों की राजनीति बन्द हो

8) संघ की दस्तक सुनें

9) केवल भारत बंद समाधान नहीं है!

10) अर्थव्यवस्था की सुनहरी होती तस्वीर

11) अमिट रहेगा संत लोंगोवाल का बलिदान 

12) वाजपेयी जी को अलविदा नहीं कहा जा सकता

13) विदेशों में ही क्यों बढ़ रही है हिन्दी की ताकत

14) मॉब लिंचिंग की अराजकता का त्रासद होना

15) गोल्डन गर्ल की गोल्डन जीत से महका भारत 

16) आओ एक नयी दुनिया बसाएं

17) भीड़तंत्र का हत्यारा बन जाने का दर्द

18) स्व-प्रेरणा की मिसालों से बनता समाज

19) उपचुनाव में एक बार फिर मतदाता मुखर हुआ 

20) राजनीति में माफी मांगने का बढ़ता प्रचलन

21) लोकतंत्र में हिंसा की संस्कृति के दाग

22) जनप्रतिनिधियों की सुविधाओं पर उठते सवाल

23) कावेरी पर राजनीतिक कालिमा क्यों?

24) कानून से ज्यादा जरूरी है सोच का बदलना

25) गोल्ड कोस्ट में भारत की चमक 

26) भगवान महावीर हैं सार्वभौम धर्म के प्रणेता 

27) विकास के नाम पर पर्यावरण की उपेक्षा क्यों?

28) सुकमा में फिर जवानों की शहादत से उठे सवाल

29) होली कोरा पर्व ही नहीं,संस्कृति भी है!

30) सरकार से मुकदमेबाजी की संस्कृृृृति का पनपना

31) पूर्ण विकसित भारत बनाने की चुनौतियां

32) गांव,गरीब और किसान की सुध लेता बजट

33) शिक्षा के मन्दिरों में बच्चे हिंसक क्यों बन रहे हैं?

34) शौक की सेल्फी का जानलेवा होना

35) राज्यसभा की प्रासंगिकता पर सवाल क्यों?

36) नववर्ष की राह: शांति की चाह

37) पंजाब के निकाय चुनावों का हिंसक होना?

38) प्यार पर पहरा कब तक?

39) मोदी को कोई गाली कमजोर नहीं कर सकती!

40) दिव्यांगों को जीवन की मुस्कान दें!

41) निजी अस्पतालों की लूट कब तक?

42) मूडीज की मोहर से बदलेगी दिशाएं!

43) चुनावी सर्वे:गुजरात एवं हिमाचल में केसरिया की बयार

44) बच्चों की मौत से जुड़े सवाल?

45) अतिथि देवो भवः की परम्परा पर दाग लगना

46) भ्रष्टाचार को पोषित करने का फरमान क्यों?

47) दीपावली भीतर से जागृति का सन्देश देता है!

48) अमेरिका में क्यों है इतनी हिंसक मानसिकता?

49) अनिवार्य मतदान के शंखनाद का सबब










************************************************************************************

बॉलीवुड       कारोबार        दुनिया       खेल        इन्फो      राशिफल

************************************************************************************



पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.


Comments-
0

अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स