यूपी निकाय चुनाव में भाजपा की जीत कार्यकर्ताओं में जोश बनाए रखने के लिए तो ठीक है, लेकिन... भाजपा के भविष्य के लिए कईं सवाल खड़े करती है.
चार दलों में भाजपा सबसे अव्वल है, लेकिन... ये नतीजे भाजपा की कमजोरियों को भी उजागर कर रहे हैं... तीन खास बाते हैं जो भाजपा के लिए विचारणीय हैं...
* एक: भाजपा अब भी शहरी पार्टी है और ग्रामीण आधार नहीं बढ़ता है तो आनेवाले समय में फिर से सहयोगियों के भरोसे ही केन्द्र सरकार का सपना साकार कर पाएगी.
* दो: गैरभाजपाई महागठबंधन जैसी समीकरण बनी तो भाजपा का जीतना मुश्किल है.
* तीन: गैरहिन्दू मतदाता फिर से भाजपा से दूर हो रहे हैं.
यूपी के नगर निकाय चुनाव को आठ महीने पहले सीएम बने योगी आदित्यनाथ के कामकाज के मूल्यांकन के तौर पर देखा जा रहा था और गैरभाजपाइयों के बिखराव का नतीजा है कि योगी कामयाब रहे, हालांकि... योगी के लिए यह एक संदेश भी है ताकि वे भविष्य में भाजपा की मजबूती के लिए उचित निर्णय ले सकें.
ऊपर से भाजपा की बड़ी जीत दर्शानेवाले इन परिणामों का विश्लेषण करने और जीत-हार के अंतर को देखने के बाद यह कहा जा सकता है कि न तो यह भाजपा की बड़ी जीत है और न ही गैरभाजपाइयों की बड़ी हार. 
वर्ष 2012 में यूपी निकाय चुनाव से पहले हुए विधान सभा के चुनाव में उत्तर प्रदेश में सपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी थी, किन्तु... निकाय चुनाव में भाजपा ने नगर निगम की बारह में सेे दस सीटें जीती थीं... विभिन्न वॉर्डों में भी उसकी अच्छीखासी मौजूदगी थी.
यूपी नगर निगम में भी भाजपा दो-तीन जगहों पर मामूली अंतर से ही जीती है जबकि नगर पंचायत और नगर पालिका में तो सपा, बसपा और कांग्रेस, तीनों ने कई जगहों पर कड़ी टक्कर दी, भाजपाई-गैरभाजपाई नजरिए से एक झलक चुनावी नतीजों पर...
यूपी चुनाव में 16 नगर निगम में से 14 भाजपा को मिले और 2 गैरभाजपाइयों ने जीते... 198 नगर पालिकाओं में से 70 भाजपा ने तो 83 गैरभाजपाइयों ने जीती और... 438 नगर पंचायतों में से 100 भाजपा ने तो 145 गैरभाजपाइयों ने जीती... यह गणित बताती है कि यदि गैरभाजपाई महागठबंधन बनता है तो भाजपा की राह मुश्किल हो जाएगी.
उल्लेखनीय तथ्य यह है कि... इस चुनाव में गैरभाजपाई बड़े नेताओं- अखिलेश यादव, मायावती आदि ने प्रचार में कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखाई जबकि योगी आदित्यनाथ का मंत्रिमंडल और भाजपा संगठन इस चुनाव में पूरी तरह से जुटा हुआ था.
इन चुनावी नतीजों का विशलेषण करें तो साफ है कि भाजपा के करीब है सपा और तीसरे नंबर पर बसपा जबकि चौथे नंबर पर कांग्रेस है, यदि ये यूपी में अपनी मौजूदगी के सापेक्ष सीटों पर सहमति बनाते हैं तो भाजपा के लिए एकतरफा जीत का सपना, सपना ही रह जाएगा.
अभी तो भाजपा की यूपी की राजनीति पर पकड़ बरकरार है, लेकिन... इसे मजबूत कैसे करना है? यह सोचने का मुद्दा है.


 


जानिए 2016 में कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में

1. असम में पुलिस फायरिंग के चलते टूटा हाई वॉल्टेज तार, 11 लोगों की मौत, 20 घायल

2. केंद्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी, जांच में मैगी सफल: नेस्ले इंडिया

3. गैर-चांदी आभूषणों पर उत्पाद शुल्क को लेकर जेटली अडिग

4. शंकराचार्य का विवादित बोल- साई पूजा की देन है महाराष्ट्र का सूखा

5. कन्हैया और उमर खालिद समेत 5 छात्र हो सकते है JNU से सस्पेंड

6. करोड़ों लोगों ने देखा प्यार का ये इजहार, आप भी जरूर देखिए

7. महाराष्ट्रः बार-बालाओं पर पैसे लुटाने या उन्हें छूने पर होगी सजा

8. नितिन गडकरी की पीएम मोदी को सलाह, गजलें सुनें, टेंशन फ्री रहें

9. कोल्लम हादसा-मंदिर के पास मिली विस्फोटकों से भरी तीन गाड़ि‍यां

10. शत्रु ने की नीतीश जमकर तारिफ, कहा- 2019 में PM पद के दावेदार

11. पाक अदालत में सबूत के तौर पर पेश हुआ ग्रेनेड फटा, 3 घायल

12. असम-बंगाल में हुई बंपर वोटिंग, CM गोगाई के खिलाफ केस दर्ज


************************************************************************************

बॉलीवुड      कारोबार      दुनिया      खेल      इन्फो     राशिफल     मोबाइल

************************************************************************************


पलपलइंडिया का ऐनडरोएड मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे.

खबरे पढने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने, ट्विटर और गूगल+ पर फालो भी कर सकते है.



अन्य जानकारियां :

सुरुचि: इस पेज पर कुकिंग और रेसेपी के बारे में रोज़ जानिए कुछ नया

तनमन: इस पेज पर जाने सेहतमंद रहने के तरीके और जानकारियां

शैली: यह पेज देगा स्टाइल और ब्यूटीटिप्स सहित लाइफस्टाइल को नया टच

मंगलपरिणय: इस पेज पर मिलेगी विवाह से जुड़ी हर वो जानकारी जिसे आप जानना चाहेंगी

आधी दुनिया: यह पेज साझा करता है महिलाओं की जिन्दगी के हर छुए-अनछुए पहलुओं को

यात्रा: इस पेज पर जानें देश-विदेश के पर्यटन स्थलों को

वास्तुशास्त्र: यह पेज देगा खुशहाल जिन्दगी की बेहद आसान टिप्स