हर व्यक्ति चाहता है कि समाज में उसकी अलग पहचान हो. मान सम्मान हो. प्रसिद्धि पाने की चाह को पूरा करने के लिए हर व्यक्ति प्रयास भी करता है. नेकी की राह पर चलें और वास्तु में बताए गए कुछ आसान से उपायों को अपनाने से आपके यश में वृद्धि हो सकती है.

आइए जानते हैं इनके बारे में._*

*_सुबह स्नान के पानी में सोने की कोई वस्तु, हल्दी, शहद, शक्कर, नमक, पीले फूल में से कोई भी एक चीज डालकर स्नान करें. ऐसा करने से समाज में प्रतिष्ठा बढ़ने लगती है. सूर्यदेव को यश और वैभव का देवता माना जाता है. हर दिन सुबह स्नान करने के बाद तांबे के पात्र में जल भरकर भगवान सूर्य को अर्घ्य दें._*

*_आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें. तांबे का सूर्य गले में धारण करें. घर में सूर्यदेव की तांबे की प्रतिमा लगाएं. मां दुर्गा सप्तशती के द्वादश अध्याय का नियमित पाठ करें. रोजाना पक्षियों को दाना खिलाएं. प्रत्येक रविवार गुड़ का दान करें. रोजाना हनुमान चालीसा का पाठ करें.

नियमित रूप से मस्तक पर केसर का तिलक लगाएं. गुरुवार के दिन गुड़ का दान करें. पक्षियों को चावल और बाजरा खिलाने से यश में वृद्धि होती है. ध्यान रखें कि जिस घर में नमक का सम्मान नहीं किया जाता वहां पर मान सम्मान टिक नहीं पाता है. कहीं भी थूक देने की आदत को तुरंत छोड़ दें. ऐसा करने से मान सम्मान में भारी गिरावट आने लगती है._