केन्द्र सरकार ने तीन महीने के लिए बढ़ाई पे फिक्सेेशन की समय सीमा, केन्द्रीय कर्मचारियों को राहत

केन्द्र सरकार ने तीन महीने के लिए बढ़ाई पे फिक्सेेशन की समय सीमा, केन्द्रीय कर्मचारियों को राहत

प्रेषित समय :15:09:00 PM / Tue, May 4th, 2021

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों को एक बड़ी राहत देते हुए पे फिक्सेशन की समयसीमा को आगे बढ़ा दिया है. केंद्र सरकार ने 15 अप्रैल से पे फिक्सेशन की समयसीमा तीन महीने के लिए बढ़ा दी है. पे फिक्सेशन की डेडलाइन का सीधा असर केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए सातवें पे कमीशन के अनुसार सैलरी पर होगा. 1 जुलाई, 2021 से महंगाई भत्ते (डीए) के बहाल होने के बाद केंद्र सरकार के कर्मचारी अपनी सैलरी में बढ़ोतरी का इंतजार कर रहे हैं.

दरअसल, कई केंद्रीय कर्मचारियों ने विभाग से डेडलाइन बढ़ाने की अपील की थी, क्योंकि वो दिए गए वक्त में उसे पूरा नहीं कर पा रहे थे. पे फिक्सेशन की डेडलाइन बढऩे के बाद केंद्रीय कर्मचारी ये चुन सकते हैं कि वो अपनी फिक्स्ड पेमेंट, प्रमोशन की तारीख के आधार पर चाहते हैं या इंक्रीमेंट की तारीख के आधार पर. सरकारी कर्मचारियों को उनकी नियुक्ति, प्रमोशन या फाइनेंशियल अपग्रेडेशन की तारीख के आधार पर 1 जनवरी या 1 जुलाई को सैलरी में सालाना बढ़ोतरी मिलती है.

सरकार हर कर्मचारी को प्रमोशन की तारीख या इंक्रीमेंट की अगली तारीख का विकल्प देती है. कर्मचारी जो विकल्प चुनता है उसे उस आधार पर फायदा होता है. यानि अगर कोई कर्मचारी फरवरी 2016 में प्रमोट हुआ, तो उसके पास ऑप्शन है कि वह इंक्रीमेंट 1 जुलाई 2016 से चाहता है या फिर जिस दिन वह प्रमोट हुआ उस तारीख से. पहले 10, 20 और 30 साल पर कर्मचारियों को प्रमोशन अपने आप मिलता था. लेकिन 7वें वेतन आयोग में इसे बदलकर मॉडिफाइड एश्योर्ड करियर प्रोग्रेशन स्कीम यानि एमएसीपीएस कर दिया गया. इसके तहत उन्हींं केंद्रीय कर्मचारियों का सालाना अप्रेजल या इंक्रीमेंट होगा, जिनका प्रदर्शन अच्छा है.

Source : palpalindia ये भी पढ़ें :-

केन्द्र सरकार ने कोरोना संकट के बीच राज्यों को दी राहत, जारी किए 8,873 करोड़ रुपए

पीएम केयर्स फण्ड से केन्द्र सरकार 1 लाख ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर खरीदेगी, यह हैं इसके नफा- नुकसान

केन्द्र सरकार का निर्देश, 31 मई तक घरेलू उड़ानों का किराया नहीं बढ़ाएंंगी एयरलाइंस

Leave a Reply