जोहानिसबर्ग में भारत का 29 साल का अजेय रिकॉर्ड 4 दिन में चकनाचूर

जोहानिसबर्ग में भारत का 29 साल का अजेय रिकॉर्ड 4 दिन में चकनाचूर

प्रेषित समय :09:47:22 AM / Fri, Jan 7th, 2022

जोहानिसबर्ग.  साउथ अफ्रीका ने जोहानिसबर्ग टेस्ट में भारत को 7 विकेट से हराकर इतिहास रच दिया. डीन एल्गर की कप्तानी पारी की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने गुरुवार को द वांडरर्स स्टेडियम में अपना सबसे बड़ा लक्ष्य हासिल करके तीन मैचों की टेस्ट सीरीज 1-1 से बराबर की. इस हार के साथ ही इस मैदान पर भारत का 29 साल पुराना रिकॉर्ड भी चार दिन में ही चकनाचूर हो गया. भारतीय टीम 29 साल से इस मैदान पर अजेय चल रही थी, लेकिन केएल राहुल की कप्तानी में चार दिन में ही उसका यह रिकॉर्ड टूट गया. दोनों टीमों के बीच सीरीज का तीसरा और अंतिम टेस्ट 11 जनवरी से केपटाउन में खेला जाएगा. नियमित कप्तान विराट कोहली इस मुकाबले में खेल सकते हैं. पीठ में तकलीफ के कारण वे दूसरे टेस्ट में नहीं खेले थे. उनकी जगह केएल राहुल ने कप्तानी की थी.

भारत ने पिछले 29 साल में जोहानिसबर्ग के द वांडरर्स स्टेडियम में 5 टेस्ट मैच खेले थे. इस मैदान पर टीम इंडिया को कभी भी हार नहीं मिली थी. इन 5 टेस्ट मैचों में से दो मैच भारत ने जीते थे, जबकि तीन मुकाबले ड्रॉ रहे थे. साथ ही 15 साल पहले 2006 में इसी मैदान पर भारतीय टीम ने राहुल द्रविड़ की कप्तानी में इतिहास रचा था. ये वही मौका था जब दक्षिण अफ्रीका की सरजमीं पर भारत को पहली टेस्ट जीत मिली थी. मौजूदा समय में टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ ने 1997 में पहला शतक यहीं पर लगाया था.

केएल राहुल ने 5 भारतीय कप्तानों की मेहनत पर पर पानी फेरा

टीम इंडिया इससे पहले, मोहम्मद अजहरुद्दीन, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली की कप्तानी में जोहानिसबर्ग में टेस्ट मैच खेल चुकी थी, लेकिन वो पिछले 29 साल से यहां एक भी टेस्ट मैच नहीं हारी थी. जोहान्सबर्ग में भारत ने जो 2 टेस्ट जीते थे, उनमें से एक जीत द्रविड़ की और दूसरी कोहली की कप्तानी में मिली थी. कोहली की कप्तानी में भारत ने 2018 में खेले गए टेस्ट मैच को 63 रनों से जीता था. इन दो जीत के अलावा 1992, 1997 और 2013 में भी भारतीय टीम ने यहां टेस्ट मैच ड्रॉ करवाया था. लेकिन गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के हाथों मिली हार के साथ ही जोहानिसबर्ग में टीम इंडिया का 29 साल पुराना अजेय रिकॉर्ड टूट गया और राहुल ने पिछले पांच भारतीय कप्तानों की मेहनत पर पानी फेर दिया.  

Source : palpalindia ये भी पढ़ें :-

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व अंडर-19 क्रिकेटर मिशेल ने लगाए यौन शोषण के चौंकाने वाले आरोप

पाकिस्तान के ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज ने 41 साल की उम्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

क्विंटन डिकॉक ने टेस्ट क्रिकेट से लिया संन्यास, सेंचुरियन में हार के बाद फैसला

जबलपुर में क्रिकेट खेल रहे युवकों पर फायरिंग करने वाला कुख्यात बदमाश गिरफ्तार..!

क्रिकेट टीम में कोरोना की सेंध मारी, सहयोगी स्टाफ संक्रमित, रद्द हुई इन दो देशों की सीरीज

Leave a Reply