शरीर को हेल्‍दी और फिट रखने के लिए उम्र के अनुसार एक्‍सरसाइज

शरीर को हेल्‍दी और फिट रखने के लिए उम्र के अनुसार एक्‍सरसाइज

प्रेषित समय :09:28:49 AM / Fri, Nov 4th, 2022

उम्र ग्रोथ, डेवलपमेंट और मैच्‍योरिटी को दर्शाती है. उम्र के साथ शरीर की मांग और आवश्‍यकता भी बदलती रहती हैं. ऐसे में शरीर को हेल्‍दी और फिट रखने के लिए उम्र के अनुसार एक्‍सरसाइज और डाइट का चुनाव कर सकते हैं. कई लोग फिट रहने के लिए ऐसी एक्‍सरसाइज का चुनाव कर लेते हैं जो शरीर को फायदा देने के बजाय नुकसान पहुंचा सकती हैं. गलत एक्‍सरसाइज से चोट लगने का जोखिम भी बढ़ जाता है. एक टीनएजर की तुलना में मिडिल एज व्‍यक्ति की एक्‍सरसाइज काफी सिंपल और लो एनर्जी वाली हो सकती है. उम्र के अनुसार एक्‍सरसाइज चुनने से शरीर को अनगिनत फायदे हो सकते हैं. चलिए जानते हैं उम्र के अनुसार कौन सी एक्‍सरसाइज का चुनाव किया जाना चाहिए.

20-30 उम्र के लोगों के लिए एक्सरसाइज
इस उम्र में व्‍यक्ति का शरीर मजबूत और लचीला होता है. हेल्‍थ शॉट्स के अनुसार फिटनेस फाउंडेशन डेवलप करने के लिए 20 से 30 वर्ष की उम्र बिल्‍कुल परफेक्‍ट मानी जाती है. इस उम्र में हफ्ते में 5 दिन कम से कम 30 मिनट व्‍यायाम करने का प्रयास करें. जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है शरीर की मांसपेशियों और हड्डियों की ताकत कम होती जाती है. इसलिए डेली रुटीन में स्‍ट्रेंथ ट्रेनिंग को प्राथमिकता देनी जरूरी है. स्‍ट्रेंथ ट्रेनिंग से अधिक उम्र में भी मांसपेशियों को खोने से कोई नुकसान नहीं होगा.

करें ये एक्‍सरसाइज
– वेट-ट्रेनिंग
– टेनिस
– हाइकिंग
– एरोबिक्‍स
– जुम्‍बा
– कोर एक्‍सरसाइज

30-40 उम्र के लोगों के लिए क्या बेस्ट?
इस दौरान शरीर के मसल्‍स मास कम होने लगते हैं. इस उम्र में वेट ट्रेनिंग और अधिक महत्‍वपूर्ण हो जाती है. जिम में वजन उठाना, वर्कआउट करना, कोच के मार्गदर्शन में वर्कआउट करना और वीडियोज की मदद लेना उपयोगी साबित हो सकता है. उम्र के साथ हड्डियां कमजोर होने लगती हैं. 30 से 40 वर्ष की उम्र हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए परफेक्‍ट होती है. इन एक्‍सरसाइज को हफ्ते में तीन से पांच दिन 30 मिनट के लिए किया जाना चाहिए.

करें ये एक्‍सरसाइज
– हाई इंटेन्सिटी ट्रेनिंग
– प्‍लैंक
– रनिंग
– वेट ट्रेनिंग
–  मसल्‍स टोनिंग एक्‍सरसाइज

40-50 उम्र के लोगों के लिए
40 से ऊपर की महिला के लिए एक्‍सरसाइज करना बेहद जरूरी होता है. जैसे-जैसे मिडिल एज की ओर जाते हैं शरीर नीचे की ओर खिसकने लगता है. शरीर का मेटाबॉलिज्‍म कम होने लगता है और वजन बढ़ना शुरू हो जाता है. इस उम्र में पुरुष और महिला दोनों के हार्मोन लेवल में कमी का अनुभव होता है. इस दौरान अधिक उछल-कूद करने वाली एक्‍सरसाइज को अवॉइड करना चा‍हिए. ऐसी एक्‍सरसाइज करें जो ज्‍वॉइंट्स के लिए स्‍मूथ हों. शरीर को फिट रखने के लिए 3-4 दिन एक्‍सरसाइज करना जरूरी है.

करें ये एक्‍सरसाइज
– वॉकिंग
– साइकलिंग
– स्‍वीमिंग
– मसल्‍स और कोर एक्‍सरसाइज

50-60 वर्ष के लोगों के लिए
जैसे ही व्‍यक्ति 50 के दशक में प्रवेश करता है उसके डेली रुटीन में बदलाव आ जाता है. इस उम्र में हड्डियों में दर्द, एनीमिया, झुर्रियों का अनुभव होता है. इस उम्र में एक्‍सरसाइज रुटीन में बदलाव की जरूरत होती है. इस दौरान लो इम्‍पेक्‍ट एक्‍सरसाइज का चुनाव करना चाहिए. हफ्ते में 5 दिन 30 मिनट एक्‍सरसाइज के लिए निकालने चाहिए. इस उम्र में चोट लगने का जोखिम ज्‍यादा होता है इसलिए सावधानी बरतना बेहद जरूरी है.

करें ये एक्‍सरसाइज
– ब्रिस्‍क वॉकिंग
– योगा
– स्‍ट्रेच
– साइकलिंग
– डांस
 

Source : palpalindia ये भी पढ़ें :-

Leave a Reply